home page

UP के इस जिले में चला बुलडोजर, गिराए गए मकान और दुकानें

up news today : इन दिनों यूपी सरकार अवध निर्माणों को लेकर काफी सख्ती दिखा रही है और इसी के चलते हाल ही में लखनऊ में भी LDA ने अवैध निर्माणों को चिन्हित करके बहुत सारी दुकानों और मकानों को ध्वस्त किया है | किस किस इलाके में चला सरकारी बुलडोज़र, आइये नीचे खबर में डीटेल में जानते हैं 
 | 
UP के इस जिले में चला बुलडोजर, गिराए गए मकान और दुकानें

HR Breaking News, New Delhi : लखनऊ में हरदोई रोड स्थित बसन्त कुंज योजना में विकास के कार्यों में रोड़ा बने अवैध निर्माणों के खिलाफ लखनऊ विकास प्राधिकरण ने सोमवार को बड़ी कार्रवाई की। इस दौरान सेक्टर-आई में प्राधिकरण की अर्जित भूमि पर विभिन्न लोगों द्वारा किए गए अवैध कब्जे, निर्माण पर बुलडोजर चलाया गया। दिन भर चली कार्यवाही के दौरान अवैध रूप से बनी एक दर्जन से अधिक दुकानों, गोदाम, बाउन्ड्रीवाॅल व कई बड़े मकानों को जमींदोज कर दिया गया। अभियान में लगभग एक लाख वर्गफिट जमीन से अवैध कब्जे हटाय गये। खाली करायी गयी जमीन की वर्तमान कीमत लगभग 100 करोड़ रूपये है। 

ATM से पैसे निकालने से पहले पढ़ लें ये खबर, अब हर बार देना होगा 173 रूपए चार्ज


 एलडीए  उपाध्यक्ष डाॅ. इन्द्रमणि त्रिपाठी ने बताया कि प्राधिकरण द्वारा बसन्त कुंज योजना के सेक्टर-जे में लगभग 65 एकड़ क्षेत्रफल में राष्ट्र प्रेरणा स्थल का निर्माण कराया जा रहा है। जिसे लेकर आसपास के क्षेत्रों में भी विकास एवं सौन्दर्यीकरण के विभिन्न कार्य कराये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि बसन्त कुंज योजना के सेक्टर-आई में प्राधिकरण की अर्जित भूमि पर कुछ लोगों द्वारा अवैध रूप से कब्जा करके दुकान, गोदाम, बाउन्ड्रीवाॅल व भवन आदि का निर्माण करा लिया गया था, जिसके चलते विकास कार्य प्रभावित हो रहे थे। इसके दृष्टिगत स्थल पर अभियान चलाकर समस्त प्रकार के अवैध निर्माणों को ध्वस्त करके कब्जा खाली कराने के आदेश दिये गये थे। 

ATM से पैसे निकालने से पहले पढ़ लें ये खबर, अब हर बार देना होगा 173 रूपए चार्ज

 जिसके अनुपालन में सोमवार को प्रवर्तन, अर्जन व अभियंत्रण अनुभाग की संयुक्त टीम ने पुलिस व पीएसी बल के सहयोग से अवैध निर्माण के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की। इस दौरान सेक्टर-आई में लगभग एक लाख वर्ग फिट अर्जित भूमि से अवैध कब्जे हटाये गये। इस दौरान लोगों ने काफी विरोध भी किया। कई तीन तीन मंजिला मकान भी गिरा दिए गए।