home page

SBI ग्राहकों के खाते से कट रहे 147.50 रुपये, बैंक ने बताई इसकी वजह

देश के सबसे बड़े बैंक, SBI यानी state bank of india के करोड़ों ग्राहक है और आज बहुत सारे ग्राहकों के पास एक SMS आया जिससे पता चला की करोड़ों ग्राहकों के खाते से 147.50 रुपये कट गए हैं | बैंक ने इसकी वजह बताई है | अगर आपके खाते से भी ये पैसे कटे हैं तो बैंक में कंप्लेंट करने से पहले पढ़ लें ये खबर और जान लें इसका कारण
 | 
बैंक ने बताई इसकी वजह

HR Breaking News, New Delhi : अगर आपका अकाउंट देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank Of India) में है, तो ये खबर आपके लिए जरूरी है. दरअसल, स्टेट बैंक के कुछ ग्राहकों को उनके खाते से 147.50 रुपये कटने का SMS प्राप्त हुआ है. इस संबंध में स्टेट बैंक ने ग्राहकों को जानकारी दी है. बैंक ने अपने ग्राहकों से कहा कि अगर आपके पास भी पैसे डेबिट (Debit) होने के ऐसे मैसेज आए हैं, तो चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है. बैंक की जानकारी में ही ये पैसे डेबिट हो रहे हैं. 

प्रेमिका के साथ होटल में रुकने पर अब पुलिस नहीं करेगी परेशान, Supreme court ने बताये ये नियम


इसलिए कट रहे हैं पैसे 

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने कहा कि ग्राहकों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले एटीएम-सह-डेबिट कार्ड के वार्षिक रखरखाव/ सर्विस चार्ज के रूप में 147.50 रुपये की राशि काटी जा रही है. SBI वार्षिक मेंटेनेंस शुल्क के रूप में 125 रुपये चार्ज करता है. साथ ही कई डेबिट कार्डों के लिए अतिरिक्त 18 प्रतिशत GST भी बैंक वसूल करता है. इसलिए अगर GST को 125 रुपये में जोड़ते हैं, तो यह 147.50 रुपये की राशि बनती है. इसके आलावा डेबिट कार्ड बदलने के लिए बैंक 300 रुपये चार्ज करता है. इसलिए अगर आपके भी SBI खाते से 147.50 रुपये की राशि कटी है, तो चिंता करने की बात नहीं है. 

ट्रांजेक्शन शुल्क में बदलाव

प्रेमिका के साथ होटल में रुकने पर अब पुलिस नहीं करेगी परेशान, Supreme court ने बताये ये नियम

SBI कार्ड्स एंड पेमेंट सर्विसेज लिमिटेड ने विभिन्न क्रेडिट कार्ड से संबंधित लेनदेन के लिए अपने ट्रांजेक्शन शुल्क में नवंबर में बदलाव किया था. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपनी वेबसाइट पर बताया था कि 15 नवंबर, 2022 से शुरू होने वाले सभी किराए के भुगतान के लिए 99 रुपये की प्रोसेसिंग फीस और एप्लिकेबल टैक्स के अधीन होंगे. इसके अलावा सभी मर्चेंट EMI लेनदेन के लिए प्रोसेसिंग फीस बढ़कर 199 रुपये हो गई है. साथ ही एप्लिकेबल टैक्स भी देना होगा. बैंक ने ये जानकारी SBI Cards की बेवसाइट पर दी थी. 

अन्य बैंक भी वसूलते हैं चार्ज

ऐसा करने वाला SBI एकमात्र बैंक नहीं है. आईसीआईसीआई, एचडीएफसी और अन्य बैंक भी डेबिट कार्ड के लिए मेंटेनेंस फीस वसूलते हैं. एचडीएफसी बैंक डेबिट कार्ड मेंबरशिप और वार्षिक शुल्क के रूप में 200 से 750 रुपये तक चार्ज करता है. वहीं, कार्ड बदलने का शुल्क लगभग 200 रुपये है.