home page

UP News : पत्नी ने खुद को सिंगल बताकर बनवा लिया पासपोर्ट, 3 महीने बैंकाक गई घूमने, पति ने कराया गिरफ्तार

UP News : बता दें कि यूपी में एक दंपती की शादीशुदा जिंदगी में तूफान मच गया जब उसकी पत्‍नी खुद को अविवाहित बताकर बैंकाक चली गई। वह वहां तीन महीने तक रही। लौटी तो पति ने मामले की शिकायत पुलिस से कर उसे गिरफ्तार करा दिया। आइए नीचे खबर में जान लेते है आखिर पूरा माजरा क्या है।

 | 
UP News : पत्नी ने खुद को सिंगल बताकर बनवा लिया पासपोर्ट, 3 महीने बैंकाक गई घूमने, पति ने कराया गिरफ्तार

HR Breaking News (ब्यूरो)। Wife arrested on husband complain: गोरखपुर में एक दंपती की शादीशुदा जिंदगी में तब तूफान मच गया जब पत्‍नी खुद को अविवाहित बताकर बैंकाक चली गई। वह वहां तीन महीने तक रही। लौटी तो पति ने मामले की शिकायत पुलिस से कर उसे गिरफ्तार करा दिया।

पुलिस ने पति की शिकायत पर ममता नाम की इस महिला को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया जहां से उसे जमानत मिल गई। अब पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। इस बीच अलग-अलग लोगों के पासपोर्ट बनाने में गड़बड़ी करने के आरोप में जिले में सात पुलिसवालों को लाइनहाजिर कर दिया गया है। 

ATM से पैसे निकालने वालों के लिए RBI ने जारी की गाइडलाइन


पति द्वारा पत्‍नी को गिरफ्तार किए जाने का ये मामला गोरखपुर के चिलुआताल थाना क्षेत्र का है। महराजगंज जिले के पुरंदपुर, रानीपुर चौराहा निवासी दुर्गेश जायसवाल ने आईजी रेंज को प्रार्थना पत्र देकर बताया था कि पारिवारिक विवाद के बाद उसकी पत्नी ममता अपने मायके चिलुआताल के मानीराम में रहती है। दोनों के बीच भरण-पोषण का केस भी न्यायालय में विचाराधीन है। पति ने आरोप लगाया कि बिना तलाक हुए उसकी पत्नी ने खुद को अविवाहित बताकर जन्मतिथि में हेरफेर करते हुए अपना पासपोर्ट बनवा लिया।

इसके सहारे वह बैंकाक में तीन महीने तक रही। पुलिस ने 14 अक्टूबर 2023 को केस दर्ज करके विवेचना शुरू कर दी। आरोप की पुष्टि होने पर शनिवार की दोपहर में आरोपी ममता को गिरफ्तार करके कोर्ट में पेश किया गया। जहां उसे जमानत मिल गई। अन्य लोगों की भूमिका की पुलिस जांच कर रही है।


पासपोर्ट वेरीफिकेशन में 7 पुलिसकर्मी लाइनहाजिर-

पासपोर्ट वेरीफिकेशन में भ्रष्टाचार सहित अन्य शिकायतों के बाद अब कार्रवाई शुरू हो गई है। एसएसपी डा. गौरव ग्रोवर ने शनिवार को एक हेड कांस्टेबल और छह कांस्टेबल तथा एक होमगार्ड को हटा दिया है। पुलिस कर्मियों को विभिन्न थानों से पुलिस लाइन में ट्रांसफर कर दिया गया है जबकि होमगार्ड को उसके विभाग में लौटाया गया है। पुलिस कर्मियों की फाइल खोलकर उनकी जांच भी शुरू हो गई है। दरअसल, पासपोर्ट को लेकर लगातार शिकायत मिल रही है। पिछले दिनों एक व्यक्ति ने दो पासपोर्ट बनवा लिया था। 

7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों की लॉटरी, महंगाई भत्ते के बाद एक और तोहफा

वहीं इसके अलावा पासपोर्ट वेरीफिकेशन में भ्रष्टाचार की बू आने के साथ ही देरी होने को लेकर बड़हलगंज, बेलघाट, गोरखनाथ, गुलरिहा, सहजनवा व तिवारीपुर पर नियुक्त पुलिसकर्मी शिकायत के दायरे में आ गए। जांच में पता चला कि इन थानों पर तैनात कर्मचारियों द्वारा पासपोर्ट की जांच में लापरवाही और कर्तव्यों के प्रति उदासीनता, अकर्मण्यता तथा गैर जिम्मेदाराना रवैया बरता गया है। एसएसपी ने इस आरोप पर उन्हें तत्काल प्रभाव से पुलिस लाइन स्थानांतरित कर दिया। इनके विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही के लिए जांच शुरू करा दी है।