home page

Income Tax Notice : कमाई एक धेले की नहीं, इनकम टैक्स विभाग ने भेज दिया 46 करोड़ा का नोटिस

Income Tax Department Notice : 1 अप्रैल को वित्तय वर्ष खत्म होने वाला है। ऐसे में इनकम टैक्स विभाग सख्ती से काम  कर रहा है। इस समय आयकर विभाग ऐसे लोगों में कड़ी नजरे रखता है जो टैक्स नहीं भरते हैं या काला धन छुपाने की कोशिश करते हैं। तो इनकम टैक्स विभाग नोटिस (Income Tax) भेजता है गड़बड़ी मिलने पर कड़ी कर्रवाई की जाती है। हाल ही में एक ऐसा ही मामला सामने आया है। आयकर विभाग ने एक स्टूडेंट को 46 करोड़ रूपये का टैक्स नोटिस भेज दिया। आइए नीचे खबर में जानते हैं क्या है पूरा मामला-

 | 
कमाई एक धेले की नहीं, इनकम टैक्स विभाग ने भेज दिया 46 करोड़ा का नोटिस

HR Breaking News (ब्यूरो)। मध्य प्रदेश ग्वालियर की जीवाजी यूनिवर्सिटी से एमए की पढ़ाई करने वाले छात्र की नींद जबसे उड़ी हुई है, जबसे आयकर विभाग की ओर से उसे इनकम टेक्स का नोटिस भेजा गया है। नोटिस 1 या 2 लाख का नहीं है, बल्कि पूरे 46 करोड़ रुपए से बड़े ट्रांसेक्शन का है। आयकर विभाग छात्र पर टैक्स चुराने का आरोप लगा रहा है। वहीं, छात्र का कहना है कि ये कैसे हो सकता है, क्योकि वो तो बेरोजगार है ? ऐसे में 46 करोड़ रुपए का लेनदेन कर कैसे सकता हूं। आयकर विभाग से नोटिस आने के बाद छात्र परीक्षा के समय में आयकर दफ्तर और पुलिस स्टेशन का चक्कर काट रहा है। आइये जानते हैं पूरा मामला क्या है।

Axis Bank ग्राहकों के लिए जरूरी अपडेट, कस्टमर की सेफ्टी के लिए बैंक ने उठाया ये कदम


बता दें कि ये अजीबो गरीब मामला शहर के हस्तिनापुर इलाके का है। यहां रहने वाला प्रमोद दंडोतिया शहर की जीवाजी विश्वविद्यालय से एमए अंग्रेजी की पढ़ाई कर रहा है। बीते महीनों उसे आयकर विभाग से 46 करोड़ रुपए का नोटिस मिला है। उसका कहना है कि वो अपनी फीस आदि जमा करने के लिए भी कई बार पैन कार्ड का इस्तेमाल कर चुका है। छात्र ने आशंका जताई है कि किसी ने उसके पैन कार्ड की कॉपी कर उससे गलत तरीके से फर्म बनाई है। छात्र का ये भी आरोप है कि अब उसी आधार पर जीएसटी का रजिस्ट्रेशन कराना होगा। यह फर्में दिल्ली और पुणे में कार्यरत बताई गई हैं।


इन जिम्मेदारों के दरवाजे पर जा चुका छात्र

मामले की खास बात ये भी है कु 3 साल में छात्र के पास न तो उसके अकाउंट में कोई पैसा आया न ही पैसा गया है। सामान्य परिवार से ताल्लुक रखने वाला प्रमोद दंडोतिया करोड़ों के लेनदेन में अपने नाम का इनकम टैक्स का नोटिस मिलते ही भौंचक्का रह गया। छात्र के पास 27 जनवरी को पहली बार इनकम टैक्स का नोटिस आया था। इसके बाद वह इनकम टैक्स, जीएसटी डिपार्टमेंट कलेक्टर और पुलिस के आला अधिकारियों से मिल चुका है लेकिन उसकी किसी ने मदद नहीं की है।

LPG Cylinder Price : 1 अप्रैल से गैस सिलेंडर पर मिलेगी 300 रुपये की छूट, करोड़ों लोगों को बड़ी राहत

ASP से लगाई छात्र ने गुहार


यह छात्र आज शुक्रवार को भी क्राइम ब्रांच के एडिशनल एसपी सियाज के एम के पास पहुंचा और अपने साथ हुई घटना के बारे में उन्हें बताया। छात्र को पुलिस ने साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराने को कहा है। वहीं आयकर विभाग के अफसर ने छात्र को पुलिस के पास जाकर अपने साथ हुए फ्रॉड की प्राथमिकी दर्ज करा कर उसकी प्रति डिपार्टमेंट में जमा कराने को कहा है।