home page

Petrol Price Today : कच्चे तेल के रेट में आया 16 फीसदी तक उछाल, जान लें भारत में क्या है पेट्रोल के दाम?

Petrol Price Updates : हाल ही में मिली जानकारी से ये सूचना मिली है कि कच्चे तेल के दामों में पूरे 16 फीसदी तक की वृद्धि दर्ज की गई है। तो क्या इससे पेट्रोल की कीमतें भी प्रभावित होंगी? आइए नीचे खबर में विस्तार से जान लें कि कच्चे तेल के रेट में इस तेजी का क्या है कारण और कितने है भारत में पेट्रोल डीजल के भाव...

 | 
Petrol Price Today : कच्चे तेल के रेट में आया 16 फीसदी तक उछाल, जान लें भारत में क्या है पेट्रोल के दाम?

HR Breaking News, Digital Desk : भारत में सोने -चांदी के दाम की तरह पेट्रोल और डीजल के दाम (petrol diesel price) भी आए दिन जारी किए जाते है। इनमें बदलाव भी देखने को मिलता है। बीते एक क्वार्टर में इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमत में तकरीबन 16 फीसदी का इजाफा हुआ है. 


अगर बात भारत के वायदा बाजार की बात करें तो कच्चे तेल की कीमत में 11 फीसदी से ज्यादा की तेजी आई है. उसके बाद भी देश में पेट्रोल और डीजल की कीमत में राहत है. मार्च के महीने में पेट्रोल और डीजल की कीमत में 2 रुपए प्रति लीटर की कटौती देखने को मिली थी. जानकारों की मानें तो कैलेंडर ईयर की दूसरी तिमाही में कच्चे तेल की कीमतें 95 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच सकती है.

तब तक भारत में लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) भी संपन्न हो चुके होंगे. ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि जून में फिर से फ्यूल की कीमत में इजाफा देखने को मिल सकता है. मौजूदा समय में खाड़ी देशों का कच्चा तेल 87 डॉलर प्रति बैरल पर पर पहुंच गया है. वास्तव में चीन की ओर से डिमांड में इजाफा, अमेरिकी रिग्स में कमी, यूक्रेन के रूसी रिफाइनरीज पर हमले और ओपेक प्लस की ओर से सप्लाई में कटौती की वजह से कच्चे तेल की कीमत में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है.

भारत में पिछलें दिनों यानि कि 15 मार्च को पेट्रोल और डीजल की कीमत (price of petrol and diesel) में कटौती देखने को मिली थी. उसके बाद से लगातार कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया जा रहा है. ऐसे में माना जा रहा है कि इंटरनेशनल मार्केट में जिस तरह की अस्थिरता देखने को मिल रही है. ऐसे में पेट्रोल और डीजल की कीमत में किसी तरह का बदलाव नहीं किया जाएगा. 


एक ताजा रिपोर्ट के अनुसार पेट्रोल और डीजल की कीमत में कटौती की वजह से देश की तीनों सरकारी कंपनियों के प्रॉफिट को एक साल में 30 हजार करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ सकता है. आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर मौजूदा समय में पेट्रोल और डीजल के दाम कितने हो गए हैं.


87 डॉलर पर पहुंचे कच्चे तेल के भाव


आज के समय में कच्चे तेल के दाम 87 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गए हैं. आंकड़ों के अनुसार खाड़ी देशों का कच्चा तेल 87 डॉलर प्रति बैरल (Crude oil $87 per barrel) पर पहुंच गया है. मौजूदा साल की बात करें तो कच्चे तेल के दाम में करीब 13 फीसदी का इजाफा हुआ है. जबकि बीते एक साल में 11 फीसदी से ज्यादा का बढ़ोतरी देखने को मिल चुकी है.

वहीं दूसरी ओर अमेरिकी कच्चे तेल के दामों मे भी वृद्धि देखने को मिली है. मौजूदा समय में डब्ल्यूटीआई की कीमत 83.17 डॉलर प्रति बैरल पर आ गए हैं. 28 मार्च को इसमें सवा 2 फासदी का इजाफा देखने को मिला था. मौजूदा साल की करें तो इसमें 16 फीसदी की तेजी आई है.

अगर बात भारत मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज की करें तो कच्चे तेल के दाम 6909 रुपए प्रति बैरल पर हैं. बीते 1 साल में इसमें 11.45 फीसदी का इजाफा देखने को मिल चुका है. बीते 3 साल में इसमें 53 फीसदी से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है. 5 साल में ये तेजी 61 फीसदी से ज्यादा आ चुकी है.

जून महीने में और बढ़े जाएंगे दाम


सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जून के महीने में कच्चे तेल के दाम में और भी इजाफा देखने को मिलेगा. अनुमान के अनुसार ब्रेंट क्रूड ऑयल की कीमत (Brent crude oil price) 95 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच सकती है, जिसका प्रमुख कारण डिमांड और फेड पॉलिसी में अनुमानित कटौती को माना जा रहा है. फेड जून के महीने में साल की पहली कटौती सकती है. 


ये कटौती 0.25 फीसदी देखने को मिल सकती है. जिससे डॉलर इंडेक्स में गिरावट आएगी और कच्चे तेल के दाम में इजाफा (Increase in crude oil prices) देखने को मिलेगा. दूसरी ओर चीन और अमेरिकी डिमांड में भी इजाफा देखने को मिल रहा है. जिसकी वजह से कच्चे तेल के दाम में तेजी का अनुमान लगाया जा रहा है.  यूक्रेन की ओर से रूसी रिफाइनरीज पर हमले करने के प्रोडक्शन में गिरावट आई है. जिसका असर और ज्यादा देखने को मिलेगा.

पेट्रोल और डीजल के दाम चल रहे है फ्रीज


भारत की बात की जाए तो कच्चे तेल के दाम (crude oil prices in india) मार्च के मिड से फ्रीज देखे जा रहे हैं. ऑयल मिनिस्ट्री के कहने पर सरकारी पेट्रोलियम कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमत में 2 रुपए प्रति लीटर की कटौती की थी. ये कटौती करीब दो साल के दाम देखने को मिली थी. 


आखिरी बार भारत देश में पेट्रोल और डीजल की कीमत में बदलाव मई 2022 में देखने को मिला था. तब देश की वित्त मंत्री ने पेट्रोल और डीजल की कीमत में सेंट्रल टैक्स को कम करने का ऐलान किया था. उसके बाद देश के कुछ राज्यों ने वैट में कटौती कर आम लोगों को राहत देने की कोशिश की थी. उसके बाद देश में पेट्रोल और डीजल के दाम फ्रीज देखने को मिले थे.

देश के मुख्य शहरों में पेट्रोल और डीजल के दाम


नई दिल्ली: पेट्रोल रेट: 94.72 रुपए प्रति लीटर, डीजल रेट: 87.62 रुपए प्रति लीटर
कोलकाता: पेट्रोल रेट: 103.94 रुपए प्रति लीटर, डीजल रेट: 90.76 रुपए प्रति लीटर
मुंबई: पेट्रोल रेट: 104.21 रुपए प्रति लीटर, डीजल रेट: 92.15 रुपए प्रति लीटर
चेन्नई: पेट्रोल रेट: 100.75 रुपए प्रति लीटर, डीजल रेट: 92.34 रुपए प्रति लीटर
बेंगलुरु: पेट्रोल रेट: 99.84 रुपए प्रति लीटर, डीजल रेट: 85.83 रुपए प्रति लीटर
चंडीगढ़: पेट्रोल रेट: 94.24 रुपए प्रति लीटर, डीजल रेट: 82.40 रुपए प्रति लीटर
गुरुग्राम: पेट्रोल रेट: 95.19 रुपए प्रति लीटर, डीजल रेट: 88.05 रुपए प्रति लीटर
लखनऊ: पेट्रोल रेट: 94.65 रुपए प्रति लीटर, डीजल रेट: 87.76 रुपए प्रति लीटर
नोएडा: पेट्रोल रेट: 94.83 रुपए प्रति लीटर, डीजल रेट: 87.96 रुपए प्रति लीटर