home page

Success story: कभी अखबार बेचकर घर खर्च में देते थे पिता का साथ, आज बिना कोचिंग UPSC क्रैक करके बनें मिसाल

IAS Officer Nirish Rajput Success Story: कहते है जिंदगी में जितने ज्यादा संघर्ष होंगे किसी व्यक्ति का हुनर उतना ही निखर कर आएगा। ऐसी ही कहानी है आईएएस अफसर निरीश (IAS officer study plan) की जो कभी दर्जी पिता का साथ देने के लिए अखबार बेचते है इतना ही नहीं अपनी फीस भी अखबार बेचकर ही भरते थे। ऐसे ही संघर्ष करते-करते आखिर चौथे एटेम्पट में उन्होंने आईएएस (IAS) अफसर बन का मिसाल कायम कर दी। आइए खबर में विस्तार से जानते है उनकी सफलता की कहानी-
 | 
Success story: कभी अखबार बेचकर घर खर्च में देते थे पिता का साथ, आज बिना कोचिंग UPSC क्रैक करके बनें मिसाल 

HR Breaking News (ब्यूरो) | जो लोग साधारण बैकग्राउंड से सफलता (UPSC Success story) के शिखर तक पहुंचते हैं, वे सबसे ज्यादा प्रेरणादायक होते हैं क्योंकि उन्होंने जीवन में हर चीज को दृढ़ संकल्प के साथ देखा और पार किया है। ऐसी ही एक प्रेरक सफलता की कहानी है आईएएस निरीश राजपूत (IAS officer Nirish Rajput) की, जिन्होंने अपने सपने को पूरा करने के लिए सभी विषम परिस्थितियों से संघर्ष किया।

 

Weather today: देश के इन जिलों में आज गरज-चमक के साथ होगी बारिश, भीषण गर्मी से मिलेगी राहत

 

मध्य प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले निरीश का जन्म एक गरीब (how to crack UPSC Exam) रिवार में हुआ था। उनके पिता परिवार का भरण-पोषण करने के लिए दर्जी का काम करते थे। आर्थिक तंगी के बावजूद, निरीश एक आईएएस अधिकारी (IAS officer kaise bane) बनने के लिए समर्पित थे।

 

Gold Price Today : सोने के भाव में बड़ा बदलाव, जानिये 18 से 24 कैरेट गोल्ड के रेट

 

सरकारी स्कूल से की पढ़ाई

निरीश ने एक सरकारी स्कूल में पढ़ाई की क्योंकि उनका (UPSC exam stategy) परिवार निजी स्कूल की फीस देने में असमर्थ था। फिर, निरीश ग्वालियर चले गए और रोजगार ढूंढ लिया। इस बीच, उन्होंने वहां बीएससी और एमएससी की डिग्री हासिल की।

 

Weather today: देश के इन जिलों में आज गरज-चमक के साथ होगी बारिश, भीषण गर्मी से मिलेगी राहत

 

उधार लिया था स्टडी मटेरियल, की पार्ट टाइम नौकरी

इसके बाद, उन्होंने अपने यूपीएससी सपने (UPSC exam syllabus) को पूरा करने के लिए दिल्ली जाने का फैसला किया। अपनी तैयारी जारी रखने के लिए उन्होंने दूसरे दोस्त से स्टडी मटेरियल उधार लिया। हालांकि, निरीश को दिल्ली में आर्थिक तंगी का (Tips for UPSC Exam) सामना करना पड़ा, जिसे दूर करने के लिए उन्होंने अपनी पढ़ाई के साथ-साथ अखबार बेचने जैसी कई  पार्ट टाइम जॉब भी कीं।

Gold Price Today : सोने के भाव में बड़ा बदलाव, जानिये 18 से 24 कैरेट गोल्ड के रेट

चौथे अटेंप्ट में क्लियर किया UPSC

अपने पहले तीन अटेंप्ट में यूपीएससी (UPSC exam study tips)  को पास करने में असफल होने के बावजूद, उन्होंने अंततः अपने चौथे अटेंप्ट में इसे पास कर लिया और बिना किसी कोचिंग के ऑल इंडिया रैंक 370 हासिल की। वह एक आईएएस (indian Administrative Services) अधिकारी बने और लाखों युवाओं के लिए प्रेरणा हैं।