home page

Chaitra Navratri 2024 Date : 8 या फिर 9, कब से है चैत्र नवरात्री शुरू? जानिए किस वाहन पर सवार होकर आएंगी मां दुर्गा

Chaitra Navratri 2024 : माता के भक्तों को नवरात्री का बहुत बेसब्री से इंतजार रहता है। इस साल के पहले और चैत्र मासिक नवरात्री अब ज्यादा दूर नही है। लेकन इस बार लोग इसके आरंभ को लेकर थोड़ी दुविधा में है। अधिकतर लोगों को ये पता नही है कि नवरात्री 8 से शुरू है या फिर 9 से। आइए आज हम आपकी ये दुविधा दूर करते है। 

 | 
Chaitra Navratri 2024 Date : 8 या फिर 9, कब से है चैत्र नवरात्री शुरू? जानिए किस वाहन पर सवार होकर आएंगी मां दुर्गा

HR Breaking News, Digital Desk : नवरात्र के 9 दिनों में मां दुर्गा के 9 स्‍वरूपों की सच्‍ची श्रृद्धा और आस्‍था के साथ पूजा की जाती है। पहले दिन कलश स्‍थापना की जाती है और 9वें दिन कन्‍या भोज के साथ मां दुर्गा की विदाई कर दी जाती है। इस बार आने वाले चैत्र नवरात्रि को लेकर लोगों के बीच में थोड़ा कन्‍फ्यूजन है कि यह 8 अप्रैल से आरंभ होंगे या फिर 9 अप्रैल से होंगे। ऐसे में आज हम आपकी ये कशमकश दूर करने वाले है। 


पंचांग के अनुसार (according to the calendar) इस बार चैत्र नवरात्रि का आरंभ 9 अप्रैल से होगा। 9 दिनों का यह महापर्व राम नवमी के साथ 17 अप्रैल को समाप्‍त हो जाएगा। चैत्र नवरात्रि प्रतिपदा का आरंभ 8 अप्रैल को देर रात 11 बजकर 50 मिनट पर होगा और अगले दिन यानी 9 अप्रैल को रात के समय 8 बजकर 30 मिनट पर समाप्त हो जाएगी। इसलिए उदया तिथि की मान्‍यता के अनुसार नवरात्रि का आरंभ 9 अप्रैल से होगा। 


हिंदू धर्म में नवरात्रि (Navratri in Hinduism) के 9 दिनों का महत्‍व बहुत ही खास माना जाता है। इन 9 दिनों में आद‍िशक्ति मां दुर्गा के 9 स्‍वरूपों की पूजा की जाती है। धार्मिक मान्‍यताओं में माना गया है कि इन 9 दिनों में मां दुर्गा से जुड़ी सभी शक्तियां जागृत हो जाती हैं। इसलिए इन दिनों में मां दुर्गा की संपूर्ण विधि विधान से पूजा करने से आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। आइए जानते हैं इस साल चैत्र नवरात्रि में मां दुर्गा का आगमन किस वाहन से होगा और कलश स्‍थापना का शुभ मुहूर्त क्‍या है।

इस बार घोड़े पर सवार होकर आएंगी मां दुर्गा

जिन के मन में ये सवाल है कि इस बार माता रानी की सवारी (Mata Rani ki swari) क्या होने वाली हे तो उन्हे बता दें कि चैत्र नवरात्रि में मां दुर्गा इस बार घोड़े पर सवार होकर आएंगी। मां दुर्गा का वाहन इस बात‍ पर निर्भर करता है कि नवरात्रि का पर्व किस दिन से आरंभ हो रहा है। 


पंचांग के मुताबिक इस साल नवरात्रि का आरंभ 9 अप्रैल मंगलवार से हो रहा है। इसलिए मां दुर्गा का वाहन अश्‍व यानी कि घोड़ा होगा। मां दुर्गा की घोड़े पर सवारी को आने वाले साल के लिए शुभ संकेत नहीं माना जाता है। घोडे़ पर देवी का आना युद्ध छत्र भंग यानी कई स्थानों पर सत्ता परिवर्तन का संकेत दे रहा है। इस साल देश में आम चुनाव होने हैं। 


माना जा रहा है कि चुनाव के नतीजे काफी आश्‍चर्यजनक हो सकते हैं। इसके अलावा घोड़े पर मां दुर्गा (Maa Durga on horse) का आना राष्‍ट्रीय आपदा साथ लेकर आता है। पूरे देश को कोई भयंकर प्राकृतिक आपदा झेलनी पड़ सकती है। जबकि शारदीय नवरात्रि में इस बार मां का आगमन गुरुवार को होने से मां की सवारी डोले पर होगी। मां का डोले पर आना भी अपने साथ भयंकर परिणाम लेकर आता है। हाथी और नाव की सवारी पर मां दुर्गा का आगमत शुभ संकेत देता है।


कलश स्‍थापना के लिए शुभ मुहूर्त


जानकारी के लिए बता दें कि पंचांग की गणना में बताया गया है कि इस बार कलश स्‍थापना के लिए सिर्फ 50 मिनट का समय मिल रहा है। कलश स्‍थापना सुबह 6 बजकर 12 मिनट से लेकर 10 बजकर 23 मिनट तक कर सकते हैं। 4 घंटे 11 मिनट का यह मुहूर्त सामान्‍य मूहूर्त माना जा रहा है। 


वहीं घटस्‍थापना के लिए अभिजीत मुहूर्त 12 बजकर 3 मिनट से 12 बजकर 53 मिनट तक कुल 50 मिनट का है। इस बार चैत्र नवरात्रि (chaitra navratri) के पहले दिन सर्वार्थ सिद्धि योग और अमृत योग का शुभ संयोग भी बन रहा है। यह सर्व कार्य सिद्धि के लिए बहुत ही शुभ माना जा रहा है।