home page

Tourist Place : मेघालय की इन जगहों के नाम सुन, ड्राइवर के भी कांपने लगते हैं हाथ

Tourist Place : अगर आपको भी डरावनी फिल्म और डरावनी जगहों पर घुमना पसंद है तो आज हम आपको मेघलाय की ऐसी जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं। जहां पर आप रात के अंधेरे में तो छोड़िए, दिन के उजाले में भी जाने से डरेंगे। आइए नीचे खबर में जानते हैं। मेघालय की ऐसी दिल-दहला देने वाली जगहों के बारे में। 
 | 
Tourist Place : मेघालय की इन जगहों के नाम सुन, ड्राइवर के भी कांपने लगते हैं हाथ

HR Breaking News (ब्यूरो) : नॉर्थ-ईस्ट का मेघालय राज्य अपनी लोक-संस्कृति और पारंपरिक परिवेश के लिए सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि विश्व स्तर पर भी बहुत प्रसिद्ध है। यह एक ऐसा राज्य है जहां हर साल लाखों देशी और विदेशी सैलानी घूमने के लिए पहुंचते हैं। इस राज्य की खूबसूरती और मनमोहक परिदृश्य के बीच में मौजूद अद्भुत जगहों पर घूमने का एक अलग ही मज़ा है। 


लेकिन मेघालय में घूमने के लिए जिस तरह कुछ जगहें फेमस (Famous places to visit in Meghalaya) हैं ठीक उसी तरह यहां मौजूद कुछ डरावनी जगहें और कहानियां आम लोगों के बीच काफी प्रचलित हैं। 


इस लेख में हम आपको मेघालय की उन जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां रात तो छोड़ दीजिए कई लोग डर के चलते दिन के उजाले में भी आसपास भटकने की कोशिश नहीं करते हैं। आइए जानते हैं।   


बालपक्रम नेशनल पार्क (Balpakram National Park)


मेघालय में स्थित बालपक्रम नेशनल पार्क कहने को तो एक फेमस पर्यटक स्थल है, लेकिन इस पार्क की डरावनी कहानियां लगभग सभी को अचंभित कर देती हैं। जी हां, ऐसा माना जाता है कि बालपक्रम पार्क मृत आत्माओं का घर है और सूरज ढलते ही यहां से रोने-चिल्लाने, हंसने और गाने की आवाज आती रहती है।


शायद आपको मालूम हो, अगर नहीं मालूम है तो आपको बता दें कि कई लोग इस पार्क को 'आत्माओं की भूमि' के नाम से भी जानते हैं। स्थानीय लोगों का भी मानना है कि इस घने जंगल के अंदर एक नहीं बल्कि कई रहस्यमयी स्थल मौजूद हैं। अगर पर्यटक इस जंगल में घूमने जाते हैं तो उन्हें इसके बारे में सूचना भी दी जाती है।


Laitumkhrah कैथोलिक कब्रिस्तान (Laitumkhrah Catholic Cemetery)


यह सच है कि भारत के अन्य राज्यों में मौजूद कई कब्रिस्तान डरावनी जगहों में शामिल है, लेकिन मेघालय की राजधानी में मौजूद यह कब्रिस्तान नॉर्थ-ईस्ट की सबसे डरावनी जगहों में से एक है।


कैथोलिक कब्रिस्तान के बारे में माना जाता है कि यह मृत आत्माओं का घर है और सूरज ढलते ही यहां से कोई भी गुज़रने की हिम्मत नहीं करता है। स्थानीय लोगों का मानना है कि यहां रात के समय अचानक से एक दीया जलने लगती है। कई बार अजीबो-गरीब आवाजे भी आने लगती हैं। 
 

नोहकलिकाई वॉटरफॉल (Nohkalikai Waterfall)


भारत के सबसे ऊंचे वॉटरफॉल  (India's highest waterfall) में शामिल नोहकलिकाई वॉटरफॉल भी मेघालय की डरावनी जगहों में शामिल है। 
जी हां, इसे लेकर यह कहानी है कि वॉटरफॉल के पास में एक परिवार रहता था और उस परिवार में एक बेटी भी थी। एक दिन अचानक वो लड़की घर से गायब हो गई और जब उसे खोजा गया तो वो नोहकलिकाई वॉटरफॉल में मृत अवस्था में मिली। इस घटना के बाद यहां कोई भी अकेले जाने से डरना लगा।  


मेघालय की अन्य डरावनी जगहें 


बालपक्रम नेशनल पार्क, Laitumkhrah कैथोलिक कब्रिस्तान और नोहकलिकाई वॉटरफॉल के अलावा मेघालय में अन्य कई जगहें मौजूद है जिसे डरावनी जगहों में शामिल किया जाता है। जैसे-स्वीट फॉल्स और नारतियांग मोनोलिथ (पत्थर का खंभा/रहस्यमयी पिलर्स) भी मेघालय की रहस्यमयी जगहों में शामिल हैं।