home page

EV Subsidy : इलेक्ट्रिक स्कूटर, बाइक और ऑटो रिक्शा खरीदने पर सरकार दे रही 50 हजार रुपये की फ्री मदद

EV Subsidy : पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों को देख हर कोई इलेक्ट्रिक वाहनों को खरीदने की ओर भाग रहा है। ऐसे में अगर आप भी इलेक्ट्रिक स्कूटर बाइक या ऑटो रिक्शा खरीदने का प्लान कर रहे हैं तो आपको बता दे कि अब सरकार मुफ्त में ₹50000 की मदद कर रही है। आइए खबर में जानते हैं सरकार की खास स्कीम के बारे में विस्तार से।
 | 

HR Breaking News (ब्यूरो)। भारत सरकार (Indian government) इलेक्ट्रिक गाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए आज यानी 1 अप्रैल से एक नई योजना की शुरुआत (Launch of new scheme) कर दी है। इस योजना के तहत भारत सरकार 500 करोड़ रुपये अगले चार महीने में इलेक्ट्रिक गाड़ियों के सब्सिडी (Subsidy for electric vehicles) पर खर्च करेगी। इस स्कीम में इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों  (electric two-wheelers) पर 10000 रुपये की छूट, छोटे तिपहिया वहानों जिसमें ऑटो, ई-रिक्शा और ई-कार्ट गाड़ियों पर 25000 रुपये और बड़े तिपहिया वाहनों पर 50000 रुपये तक सहायता राशि दी जाएगी। यह योजना सोमवार से शुरू हो गई है और जुलाई के अंत जारी रहेगी। यह योजना भारत सरकार (Indian government) के भारी उद्योग मंत्रालय (Ministry of Industry) के द्वारा शुरू की गई है।


आपको बता दें कि देश में 31 मार्च के बाद फास्टर एडॉप्शन और मैन्युफैक्चरिंग इलेक्ट्रिक व्हीकल (Manufacturing Electric Vehicle) यानी FAME 2 स्कीम खत्म हो गई है। ऐसे में केंद्र सरकार (Central government) ने इसकी जगह इलेक्ट्रिक मोबिलिटी प्रोमोशन स्कीम (EMPS) लेकर आई है। यह स्कीम 1 अप्रैल से पूरे देश में लागू हो गई है और यह स्कीम फेम 2 योजना की जगह ली है। ऐसे में इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर और इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर (Electric two-wheeler and electric three-wheeler) खरीदने पर सब्सिडी अगले कुछ सालों देश के अलग-अलग राज्यों में पहले की तरह ही मिलती रहेगी। ऐसे में लोगों को इलेक्ट्रिक स्कूटर या बाइक खरीदने पर कितनी छूट मिल रही है, यह जानकारी होना जरूरी है।


10 हजार रुपये सहायता राशि


भारी उद्योग मंत्रालय (Ministry of Heavy Industries) ने कहा है कि इस योजना शुरू करने का मुख्य उद्देश्य है कि देश में इलेक्ट्रिक गाड़ियों को बढ़ावा मिले। भारत सरकार के जुलाई तक 3.33 लाख दोपहिया वाहनों पर 10 हजार रुपये सहायता राशि देगी। देश में इलेक्ट्रिक गाड़ियों को अपनाने में तेजी लाने के लिए भारी उद्योग मंत्रालय (Ministry of Heavy Industries) 500 करोड़ रुपये इलेक्ट्रिक परिवहन संवर्धन योजना ईएमपीएस-2024 योजना शुरू की है। इसके तहत छोटे तिपहिया वहानों जिसमें ऑटो, ई-रिक्शा और ई-कार्ट गाड़ियों पर 25000 रुपये तक सहायता राशि दी जाएगी।


तिपहिया वाहनों पर 50000 रुपये तक सब्सिडी


बड़े तिपहिया वाहनों पर मंत्रालय 50000 रुपये तक सब्सिडी देगी। आपको बता दें कि भारी उद्योग मंत्रालय ने बीते 13 मार्च को यह योजना शुरू करने का ऐलान किया था। वहीं, फेम योजना के तहत 31 मार्च 2024 के बाद भी धन उपबल्ध होने तक ई-वाहनों पर सब्सिडी जारी रहेगी। ऐसे में इस साल जुलाई तक आपके लिए इलेक्ट्रिक स्कूटर या बाइक या फिर तिपहिया वाहन खरीदने का यह बढ़िया मौका है। ऐसे में अगर आप 31 जुलाई 2024 तक इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदते हैं तो कई हजार रुपये की छूट का फायदा मिलेगा।