home page

Breaking News : नशे में टून्न था पति, प्रेमी के साथ मजे कर रही थी पत्नी, फिर जो हुआ...

मामला बदायूं कोतवाली क्षेत्र का बताया जा रहा है। महिला का पति नशे में टून्न था। इधर पत्नी अपने आशिक के साथ रंगरलियां मना रहा थी। फिर अचानक महिला ने अपने प्रेमी के स मिलकर पति की हत्या कर दी। जानिये पूरा मामला- 

 | 

HR Breaking News (नई दिल्ली)। बदायूं कोतवाली क्षेत्र में पत्नी द्वारा प्रेमी के साथ मिलकर हत्या करने का सनसनी खेज मामला सामने आया है। पुलिस ने आरोपित पत्नी और प्रेमी को हिरासत में ले लिया हैं। मामला उरेना गांव के रहने वाले अरविंद का है। जो शराब पीने का आदी था।

ये भी पढ़ें : love affair : पत्नी की जगह सास ने मनाई सुहागरात और अब हो गए प्रेग्नेंट

वह दिन रात शराब पीता था, इससे उसकी पत्नी रुचि आजिज आ चुकी थी। आए दिन इसे लेकर पत्नी रुचि का पति अरविंद से झगड़ा होता था। इस बीच रुचि की मुलाकात गांव उरेना पुख्ता निवासी मोहित सिंह से हुई। दोनों के बीच आये दिन मुलाकात होने लगी और उनके बीच संबंध हो गए।


तीन दिन पहले अरविंद शराब के नशे में धुत होकर घर आया।इसी का फायदा उठाकर रुचि ने अपने प्रेमी मोहित को घर बुला लिया और उसके साथ संबंध बनाने लगी। इसी बीच अरविंद को अचानक होश आ गया। वह चीखते हुए गाली गलौज करने लगा। इस पर रुचि और मोहित ने उसे चारपाई पर गिरा लिया और उसका गला दबाकर हत्या कर दी।

इसके बाद मोहित वहां से चला गया, जबकि रुचि घर मे सो गई। सुबह जब सब लोग जागे तो रुचि रोते हुए पड़ोस में ही रहने वाले अपने परिवार के अन्य सदस्यों के पास गई और बताया कि अरविंद की मौत हो गई है। परिवार के लोगों ने इसे शराब अधिक पीने की वजह मानते हुए मौत मान ली।

वह शव का बिना पोस्टमार्टम कराए ही अंतिम संस्कार करने जा रहे थे कि किसी ने पुलिस को सूचना दे दी।इस पर पुलिस ने देर शाम शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। रविवार देर शाम शव का पोस्टमार्टम हुआ, जिसमें गला दबाकर हत्या किए जाने की पुष्टि हुई। इस पर पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू की।

पुलिस ने परिवार के सभी लोगों के नम्बर सर्विलांस पर लगाए और घटना स्थल से बीटीएस डेटा भी उठाया। जिसमें पुलिस को एक नम्बर मिला, जो उसी घर से चल रहा था। जांच में वह नम्बर मोहित का पाया गया। पुलिस ने मोहित को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो वह टूट गया।

ये भी पढ़ें : Bihar Railway : ये है बिहार का सबसे पुराना रेलवे स्टेशन, 1939 में बदला गया था नाम

उसने पुलिस को अपने और रुचि के बीच संबंध होने की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस ने रुचि को भी गिरफ्तार कर लिया। सोमवार को पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। एसपी सिटी अमित किशोर श्रीवास्तव ने बताया कि वारदात की शुरुआत में यह हत्या जैसी नहीं लग रही थी, पोस्टमार्टम न होता तो यह सामान्य मौत ही हो जाती। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद जांच की गई उससे हत्या का राजफाश हुआ।