home page

NCR की सात कॉलोनियों पर चला बुलडोजर, 16 एकड़ जमीन को कराया खाली

पिछले कई सालों से दिल्ली एनसीआर में अवैध कॉलोनियों के निर्माण के मामले सामने आ रहे हैं। लेकिन अब एनसीआर में अवैध निर्माण के खिलाफ प्रशासन ने सख्ती दिखानी शुरू कर दी है। हाल ही में प्रशासन ने एनसीआर में 16 एकड़ में सात अवैध कॉलोनियों को ध्वस्त किया है। आइए नीचे खबर में जानते हैं- 

 | 
NCR की सात कॉलोनियों पर चला बुलडोजर, 16 एकड़ जमीन को कराया खाली

HR Breaking News (ब्यूरो)। अवैध निर्माण के खिलाफ प्रशासन की सख्ती जारी है। इसी कड़ी में गुरुग्राम को शुक्रवार को गांव अलीपुर और भोंडसी में अवैध रूप से पनप रही सात कॉलोनियों पर शुक्रवार को बुलडोजर चला। नगर एवं ग्राम नियोजन विभाग ने भारी पुलिस बल की मौजूदगी में इन कॉलोनियों में तोड़फोड़ की। करीब 16 एकड़ में इन कॉलोनियों को काटा जा रहा था। जिसे खाली करा लिया गया है।

Aadhaar Update : आधार कार्ड में बदलना है नाम या डेट ऑफ बर्थ तो इस तारीख तक फ्री में कर सकते हैं अपडेट

डीटीपी की तरफ से अब इस जमीन के मालिकों और भूमाफियाओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी। साथ ही साथ तोड़फोड़ में हुए खर्चे की वसूली की जाएगी। इन कॉलोनियों में किसी तरह की रजिस्ट्री नहीं हो, इसको लेकर राजस्व विभाग के अधिकारियों को पत्र लिखा जाएगा। नगर एवं ग्राम नियोजन विभाग के डीटीपी मनीष यादव के नेतृत्व में तोड़फोड़ दस्ता सबसे पहले गांव अलीपुर में सुबह 11 बजे पहुंच गया।

इस गांव में चार एकड़ में दो फार्म हाउस कॉलोनियां विकसित की जा रही थी। पांच सौ से एक हजार वर्ग गज में फार्म हाउस काटे गए थे। भूमाफियाओं ने 500 मीटर सड़क का निर्माण कर दिया था। तोड़फोड़ दस्ते के पहुंचने के बाद मौके पर हड़कंच मच गया। डीटीपी का आदेश मिलने के बाद तोड़फोड़ दस्ते ने बुलडोजर की मदद से इन दोनों कॉलोनियों को मलबे में मिला दिया।

2 हजार के नोट को लेकर RBI ने दिया अपडेट, जानिये अब कहां करवा सकते हैं चेंज

इसके बाद तोड़फोड़ दस्ता गांव भोंडसी में पहुंच गया। यहां करीब साढ़े तीन एकड़ में दो कॉलोनियां थोड़ी-थोड़ी दूरी पर काटी जा रही थी। अभी इन कॉलोनियों में 450 मीटर सड़क का निर्माण किया था। इसके अलावा पांच मकान तैयार करने के लिए चारदीवारी खड़ी की गई थी। बुलडोजर की मदद से इन्हें जमींदोज कर दिया।

तोड़फोड़ दस्ता इस गांव में मारुति कुंज में पहुंच गया। यहां साढ़े छह एकड़ में दो कॉलोनियां काटी जा रही थी। इन कॉलोनियों में एक निर्माणाधीन मकान, एक चारदीवारी को तोड़ा गया। इसके बाद तोड़फोड़ दस्ता म्यूर विहार एक्सटेंशन में पहुंच गया।