home page

दिल्ली के इस इलाके में चला DDA का बुलडोजर, सैंकड़ों घर गिराए गए

Delhi NCR Bulldozer Action - दिल्ली एनसीआर में पिछले कुछ सालों से अवैध निर्माण के मामले तेजी से सामने आ रहे हैं। ऐसे में अतिक्रमणकारियों को सबक सिखाने के लिए प्रशासन ने सख्ती से काम लेना शुरू कर दिया है। हाल ही में दिल्ली विकास प्राधिकरण (DDA) ने 250 घरों को बुलडोजर की सहायत से ध्वस्त किया है। 

 | 

HR Breaking News (ब्यूरो)। शुक्रवार को दिल्ली में दिल्ली विकास प्राधिकरण (DDA) का बुलडोजर जमकर गरजा। यहां दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के सराय काले खां के समीप यमुना के डूब क्षेत्र में अतिक्रमण रोधी अभियान चलाया। इस दौरान डीडीए के बुलडोजर ने वहां 250 घरों को तोड़ डाला। 


डीडीए के अनुसार, यह अभियान पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था के बीच चलाया गया ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि इस कवायद के दौरान कानून-व्यवस्था बनी रहे। घरों को जमींदोज करने के पीछे तर्क देते हुए डीडीए के एक अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) के आदेश के अनुसार यह इलाका यमुना डूब क्षेत्र में आता है और यहां किसी प्रकार का अतिक्रमण नहीं होना चाहिए।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार को यह प्रक्रिया शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गई। इलाके के निवासी ताहिर अली ने बताया कि उन्हें गुरुवार शाम करीब साढ़े चार बजे अतिक्रमण रोधी अभियान की सूचना मिली। अली ने बताया कि गुरुवार को शाम करीब 4.30 बजे एक पुलिसकर्मी मकान गिराने का आदेश लेकर इलाके में आया और हमें शुक्रवार सुबह 10 बजे तक इलाका खाली करने को कहा। हालांकि, अधिकारी सुबह करीब सात बजे यहां आए और बाद में मकानों को गिराना शुरू कर दिया।

मिली जानकारी के अनुसार, इस इलाके में डीडीए ने करीब 250 घर गिराए गए। इस बारे में जानकारी देत हुए एक व्यक्ति ने बताया कि मैं असम से हूं और 1996 से इस इलाके में रह रहा हूं। यहां हमारे करीब 15 से 20 परिवार हैं, जो असम से हैं और बाकी उत्तर प्रदेश और हरियाणा से हैं। हम कूड़ा बीनने का काम करते हैं और कुछ लोग पास के खेतों में काम करते हैं।अली ने कहा कि अतिक्रमण अभियान के बाद सबकुछ खत्म हो गया। उसने आरोप लगाया कि उन्हें उनके घरों से घरेलू सामान बाहर निकालने का समय नहीं मिला।

बता दें कि दिल्ली में डीडीए का लगातार अतिक्रमण रोधी अभियान चल रहा है। बीते कुछ महीनों में कई इलाकों में डीडीए का बुलडोजर गरजा है। इस दौरान कई अवैध मकानों को तोड़ा गया है। बुलडोजर ऐक्शन दिल्ली (Bulldozer action Delhi) के साथ ही पूरे एनसीआर में चालू है। इसमें अवैध निर्माणों को तोड़ने का काम किया जा रहा है।