home page

Delhi metro : जल्दी ही हर मोहल्ले के नज़दीक पहुंचेगी मेट्रो, DMRC बना रही ये बड़ा प्लान

दिल्ली जैसे बड़े शहर में मेट्रो की डिमांड बढ़ती जा रही है, हर रोज़ दिल्ली मेट्रो से लाखों यात्री सफर करते हैं और ये गिनती हर रोज़ बढ़ रही है | मेट्रो से लोगों का बहुत सारा समय तो बचता ही है पर इसके साथ बहुत सारे पैसे भी बचते हैं | DMRC आने वाले कुछ सालों में दिल्ली मेट्रो को और भी बड़ा बनाने का प्लान बना रही है | आइये नीचे खबर में विस्तार से जानते हैं इसके बारे में 
 | 

HR Breaking News, New Delhi : दिल्ली और इससे सटे इलाकों में मेट्रो का विस्तार जारी है | हर रोज़ लाखों यात्री मेट्रो से सफर करते हैं और आने वाले दिनों में ये गिनती और भी बढ़ने वाली है | दिल्ली-एनसीआर के शहरों को एक-दूसरे से जोड़ कर दिल्ली मेट्रो की विस्तार की योजना आगे भी जारी रहेगी इसी को देखते हुए जल्दी ही दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) मेट्रो फेज-4 के बाद भी नए फेज पर काम करना शुरू कर दिया है. दिल्ली मेट्रो फेज-4 परियोजना पूरा होने के बाद डीएमआरसी दिल्ली-एनसीआर के गाजियाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, नोएडा एक्सटेंशन, फरीदाबाद, गुरुग्राम में कई और प्रोजेक्ट शूरू कर सकती है. आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय की मानें तो अगले 10 सालों में दिल्ली मेट्रो की कनेक्टिविटी फ्रांस के पेरिस और जापान के टोक्यो जैसे शहरों के बराबर करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.

Nirmala Sitharaman : 17 करोड़ लोगों को मिलने वाला है बड़ा तोहफा, वित्त मंत्री करेंगी ये ऐलान

शहरी आवास मंत्रालय ने अपने प्रेजेंटेशन में कहा है कि डीएमआरसी ने दिल्ली मेट्रो की फेज-4 को पूरा करने में लगातार आगे बढ़ रही है. इस साल के अंत तक फेज-4 के तहत बन रहे कई लाइन को पूरा कर लिए जाएगा. यात्रियों की सुविधा की बात करें तो दिल्ली मेट्रो ने टोकन की जगह क्यूआर शुरू कर दिया है. यह सबसे बढ़िया टिकटिंग सुविधा शुरू हुई है. इसके साथ ही दिल्ली मेट्रो क्यूआर कोड टिकटिंग में बड़ा बदलाव करते हुए डायनामिक क्यूआर कोड लाने जा रही है.

पेरिस जैसे शहर के बराबर पहुंचेगी मेट्रो 
डीएमआरसी ने कहा है कि दिल्ली मेट्रो लगातार प्रॉफिट में चल रही है. मेट्रो की कोशिश है कि आने वाले 10 सालों में यात्री पैदल चक्कर मेट्रो नेटवर्क तक पहुंचें. यात्रियों को मेट्रो तक पहुंचने में बस, ऑटो या अन्य फीडर सेवा लेने की जरूरत न पड़े. डीएमआरसी का प्लान है कि दिल्ली ही नहीं एनसीआर में जहां-जहां मेट्रो का विस्तार हुआ है, वहां लोग 500 मीटर के दायरे में पैदल चल कर मेट्रो की सुविधा का आनंद लें. साथ ही इंटरचेंज स्टेशन और इंटर कनेक्टिविटी भी पर डीएमआरसी काम कर रही है, ताकि जिसे जहां जाना है वह वहां बिना किसी असुविधा के वहां जा सके.

डीएमआरसी ने आगे कहा है कि मेट्रो फेज-4 को बन जाने के बाद दिल्ली मेट्रो का 106 किलोमीटर कॉरिडोर और बढ़ जाएगा. इससे दिल्ली-एनसीआर और नजदीक आ जाएंगे. यात्रियों की शिकायतें पहले लिखित करने की सुविधा थी, जिसे अब ई-मेल, कॉल सेंटर और सोशल मीडिया के कई माध्यमों से कर सकते हैं. अभी जो सबसे ज्यादा शिकायत आ रही है वह ऑनलाइन और क्यूआर कोड टिकटिंग को लेकर है, जिसमें पैसे फंसने को लोग परेशान रहते हैं. डीएमआरसी उस पर काम कर रही है.

6 करोड़ PF खाताधारकों के लिए बड़ी खुशखबरी, EPFO ने बताया कब अकाउंट में आएगा पैसा


ये है 10 साल का प्लान 


डीएमआरसी ने कहा है कि मेट्रो फेज-4 देरी से चल रहा है. कोविड, जमीन अधिग्रहण और पेड़ों की कटाई की वजह से इस फेज में टाइम लगा. अभी भी आजादपुर समेत कई जगहों पर पेड़ों की कटाई और जमीन को लेकर समस्या है. इसके बावजूद हम समय पर पूरा करने की कोशिश कर रहे है. अगस्त के अंत तक तकरीब 3 किलोमीटर जनकपुरी पश्चिम से आरके आश्रम का सेक्शन हमलोग खोलने जा रहे हैं. यहां बन रहे तीनों कॉरिडोर को मार्च 2026 तक खोलने का लक्ष्य रखा है.