home page

Noida के अधिकारियों को सीएम ने दिया एक महीने का समय, इसके बाद चली जाएगी नौकरी

Noida - हाल ही में आई एक रिपोर्ट के मुताबिक ये कहा जा रहा है कि नोएडा अधिकारियों को सीएम ने एक महीने का समय दिया है। जिसके बाद इन अधिकारियों की नौकरी जा सकती है। आइए नीचे खबर में जानते है इस अपडेट से जुड़ी पूरी जानकारी...
 | 

HR Breaking News, Digital Desk- सीएम योगी आदित्यनाथ ने जिलों में तैनात अधिकारियों को कड़ी चेतावनी देते हुए समय रहते सुधारने का आखिरी मौका दिया है। सीएम ने साफ-साफ कह दिया है कि जिलों में तैनात अधिकारी अपनी कार्यप्रणाली सुधार लें या कार्यमुक्त हो जाएं। इसके लिए सीएम (CM) ने एक महीने का वक्त दिया है। आपको जानकर हैरानी होगी कि गौतमबुद्ध नगर जिला पैमाइश के मामले में आखिरी पायदान पर है। गौतमबुद्ध नगर पैमाइश के मामले में बॉटम 5 में है। सुप्रीम कोर्ट ने भी नोएडा अथॉरिटी के अधिकारियों को भ्रष्ट होने का तमगा दे दिया है। 



जिलों में तैनात अधिकारियों के काम की समीक्षा- 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिलों की रियल टाइम मॉनिटरिंग के लिए करीब 2 महीने पहले लाल बहादुर शास्त्री भवन में सीएम कमांड सेंटर डेसबोर्ड का उद्घाटन किया था। सीएम ने कहा था कि इसी के आधार पर जिलों में तैनात अधिकारियों के काम की समीक्षा की जाएगी। प्रदेश में 2947 राजस्व न्यायालय हैं, जिनमें से पिछले 6 वर्षों में 195 लाख मुकदमे दाखिल हुए। इनमें से 174 लाख को निस्तारण कर दिया गया है। 



बॉटम 5 में गौतमबुद्ध नगर जिला- 
सीएम योगी आदित्यनाथ ने समीक्षा बैठक में खराब प्रदर्शन करने वाले जिलाधिकारियों को फटकार लगाते हुए सुधार करने के निर्देश दिए हैं। पैमाइश के मामलों के निपटारे में टॉप 5 में संतकबीरनगर, कासगंज, महाराजगंज, हापुड़ और बलरामपुर है। जबकि बॉटम 5 में गौतमबुद्ध नगर, बलिया, आजमगढ, एटा और लखनऊ है।