home page

Loan Pre-payment : ईमानदारी पड़ जाएगी भारी, समय से पहले लोन भरने के 4 बड़े नुकसान

personal loan customer alert - जब अचानक पैसे की जरूरत पड़ती है तो सबसे पहले पर्सनल लोन लेने के बारे में साचते हैं। अन्य लोन के मुकाबले पर्सनल लोन में ज्यादा ब्याज चुकाना पड़ता है। लेकिन इसके बाद भी ज्यादातर लोग पर्सनल लोन लेना ही पसंद करते हैं। बैंक की ओर से पर्सनल लोन (personal loan) को भरने के लिए EMI का ऑप्शन मिलता है। लेकिन कई बार पर्याप्त पैसे होने पर हम समय से पहले ही कर्ज का भुगतान करने के बारे में सोचते हैं। ऐसे में आपकी ये ईमानदारी आपपर भारी पड़ सकती है। आइए नीचे खबर में जानते हैं समय से पहले लोन भरने के कौन से नुकसान होते हैं- 

 | 
Loan Pre-payment : ईमानदारी पड़ जाएगी भारी, समय से पहले लोन भरने के 4 बड़े नुकसान

HR Breaking News (ब्यूरो)। जीवन अनिश्चितताओं से भरा है। हमें किसी भी वक्त अपनी क्षमता से अधिक पैसों की जरूरत पड़ सकती है। इस काम में हमारी मदद करता है पर्सनल लोन। देश की बैंकिंग प्रणाली में पर्सनल लोन सबसे अधिक उपयोग किया जाने वाला टूल है। भले ही होम लोन या आटो लोन के मुकाबले पर्सनल लोन में ज्यादा ब्याज का भुगतान करना पड़ता है, लेकिन इसके बावजूद जरूरत पड़ने पर लोग सबसे ज्यादा पर्सनल लोन का इस्तेमाल करते हैं।

पर्सनल लोन (Personal Loan) को चुकाने के लिए हमें ईएमआई (EMI) यानि मासिक किस्तों का वि​कल्प मिलता है। लेकिन कई बार कुछ समय बाद जब हमारे पर पर्याप्त धनराशि इकट्ठी हो जाती है तो हम प्री पेमेंट (pre payment) का विकल्प चुनते हैं। यानि हम समय पूर्व पूरे कर्ज का भुगतान कर देते हैं। लेकिन कई बार आपको इस ईमानदारी का खामियाजा भी भुगतना होता है। कई बैंक या वित्तीय संस्थाएं बैंकिंग प्री पेमेंट (pre payment) के लिए चार्जेंज वसूलती हैं। इसके साथ ही दूसरे शुल्क अदा करने की अनिवार्यता लागू करते हैं। आइए जानते हैं कि बैंक को पूर्व भुगतान करने पर आपको क्या मुश्किलें आ सकती हैं। 

UP News : यूपी सरकार का बड़ा फैसला, अब प्रोपर्टी नाम कराने के लगेगे इतने रुपये

प्री पेमेंट चार्जेज़


जब आप पहले से ऋण का भुगतान करने का निर्णय लेते हैं, तो अधिकांश बैंक और एनबीएफसी पूर्व-क्लोजर शुल्क (NBFC Pre-Closure Charges) लेते हैं। सामान्य तौर पर, पूर्व-क्लोजर शुल्क बकाया ऋण शेष के 1% से 5% की दर से लिया जाता है। हालाँकि, यदि आप किसी ऋण को जल्दी से बंद कर रहे हैं, तो संभावना है कि आप पूर्व-बंद करने के लिए अतिरिक्त राशि का भुगतान करेंगे, लेकिन आप फिर भी ऋण ब्याज पर एक महत्वपूर्ण राशि बचाएंगे।

क्रेडिट स्कोर पर प्रभाव


लोन का प्री​पेमेंट आपके क्रेडिट स्कोर (credit score) पर सामान्य रूप से बेहतर प्रभाव डालेगी। लेकिन एक बैंक के मुकाबले दूसरे बैंक में यह स्थिति अलग अलग हो सकती हैं। यदि आप अपने क्रेडिट स्कोर में सुधार करना चाहते हैं, तो ऋण के पूर्ण पाठ्यक्रम के लिए मासिक ईएमआई (EMI) का समय पर भुगतान आपको अपने क्रेडिट स्कोर को बेहतर बनाने में मदद करेगा। चाहे आप कार्यकाल के अनुसार भुगतान करें या पूर्व-बंद करें, आपको अपने क्रेडिट स्कोर (credit score) पर मासिक जांच करके इसके प्रभाव का पालन करना चाहिए।

 प्रीपेमेंट का समय 


आप किस समय प्रीपेमेंट करते है यह भी काफी महत्वपूर्ण है। यदि आपने अपने ऋण का एक महत्वपूर्ण हिस्सा चुका दिया है, तो आप प्रीपेमेंट से बहुत अधिक लाभ नहीं उठा सकते हैं। एक बैलेंस लोन (Balance Loan) कम करने में, ब्याज को आम तौर पर आपके ईएमआई में एकत्र किया जाता है। इसलिए, आपके ऋण के अंत की ओर, आपके अधिकांश ईएमआई मूलधन के खिलाफ समायोजित किए जाते हैं। इसलिए, ऋण के प्रारंभिक चरण में प्रीपेमेंट करने से आपको अधिक बचत करने में मदद मिल सकती है।

बैंक खाते में मिनिमम बैलेंस को लेकर RBI ने बनाए नए नियम, 1 तारीख से हो जाएंगे लागू

प्री-क्लोजर ताजा क्रेडिट पाने में मदद करता है


एक बार जब एक ऋण का भुगतान किया जाता है, तो यह आपकी आय को नए उधारों के लिए मुक्त करता है - एक घर, एक कार, इलेक्ट्रॉनिक आइटम, या कुछ और के लिए। ऋणदाता आपकी वर्तमान देनदारियों के आधार पर आपकी ऋण चुकौती क्षमता तय करते हैं। यदि आपकी देनदारियां कम हैं, तो नए ऋण प्राप्त करना आसान होगा। यदि ऋणों का पूर्ण और समय पर भुगतान किया गया है, तो आपको एक अच्छा क्रेडिट स्कोर मिलेगा, जिसके साथ आप सर्वोत्तम ऋण ऑफ़र और सबसे कम ब्याज दर आकर्षित कर सकते हैं।