home page

RBI के एक्शन के बाद पेटीएम में मची खलबली, दो डायरेक्टर्स ने दिया इस्तीफा

देश की सबसे बड़ी ऑनलाइन पेमेंट कंपनी पेटीएम की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पेटीएम पेमेंट्स बैंक के दो इंडिपेंडेंट डायरेक्टर्स ने रिजाइन दे दिया है। सूत्रों के मुताबिक शिंजिनी कुमार और मंजू अग्रवाल ने कंपनी को बोर्ड से किनारा कर लिया है। आइए जानते है इसके बारे में विस्तार से.

 | 
RBI के एक्शन के बाद पेटीएम में मची खलबली, दो डायरेक्टर्स ने दिया इस्तीफा

HR Breaking News (नई दिल्ली)। कुमार इससे पहले सिटीबैंक, पीडब्ल्यूसी इंडिया और बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच में काम कर चुकी हैं। अग्रवाल ने 34 साल तक एसबीआई में विभिन्न पदों पर काम किया। वह डिप्टी एमडी पद से रिटायर हुईं।

पेटीएम पेमेंट्स बैंक के बोर्ड में अब केवल तीन इंडिपेंडेंट डायरेक्टर रह गए हैं। इनमें पंजाब एंड सिंध बैंक के पूर्व एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर अरविंद कुमार जैन, एक्सेंचर के पूर्व एमडी पंकज वैश्य और डीपीआईआईटी के पूर्व सेक्रेटरी रमेश अभिषेक शामिल हैं। डायरेक्टर्स के इस्तीफे के बारे में भेजे ईमेल का बैंक ने जवाब नहीं दिया।

हाल में आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर कई तरह की पांबदियां लगा दी थीं। आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक की सभी सेवाओं पर एक तरह से मार्च से रोक लगा दी है। केवल ट्रांसफर और विड्रॉल की अनुमति होगी लेकिन आप 29 फरवरी से अपना वॉलेट या फास्टैग टॉप नहीं कर सकेंगे। साथ ही आप अपने अकाउंट में पैसा डिपॉजिट नहीं कर पाएंगे।

इसके बाद से कंपनी के सीईओ विजय शेयर शर्मा काफी एक्टिव हो गए हैं। हाल में उन्होंने फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण और आरबीआई के अधिकारियों के भी मुलाकात की है। साथ ही कंपनी ने कहा है कि वह कंप्लायंस और रेगुलेटरी मामलों को मजबूत करने के लिए सेबी के पूर्व चेयरमैन एम दामोदरन की अगुवाई में एक एडवाइजरी कमेटी का गठन करेगी।