home page

100 रुपये के नोट को लेकर RBI ने जारी की महत्वपूर्ण गाइडलाइन

RBI - हाल ही में सौ रुपये के नोट को लेकर आरबीआई की ओर से एक महत्तवपूर्ण गाइडलाइन जारी की गई है। दरअसल आरबीआई ने अपनी रिपोर्ट के मुताबिक बताया है कि वित्तीय वर्ष में कुल 2,08,625 नकली नोट पकड़े गए हैं। इनमें सबसे अधिक 100 रुपये के नोट हैं....
 | 
100 रुपये के नोट को लेकर RBI ने जारी की महत्वपूर्ण गाइडलाइन

HR Breaking News, Digital Desk- देश में नकली नोटों का कारोबार काफी लंबा चौड़ा है और इस बात को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) के आंकड़े साबित कर रहे हैं. RBI ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में बताया है कि वर्ष 2023-24 में 5.45 करोड़ रुपये से ज्यादा के नकली नोट पकड़े गए हैं.

रिपोर्ट के अनुसार, वित्तीय वर्ष 2023-24 में कुल 2,08,625 नकली नोट पकड़े गए हैं. इनमें सबसे अधिक 100 रुपये के नोट हैं. कुल 11073600 रुपये मूल्‍य के 100 के नोट पकड़े गए हैं. 100 रुपये के नोट हमारे दैनिक लेन-देन का हिस्सा हैं. अगर आपको 100 रुपये के असली और नकली नोट की पहचान करनी है, तो इसके लिए आसान तरीका बता रहे हैं.

नोटबंदी के बाद रिजर्व बैंक ने बाजार में 2000 और 500 रुपये के नए नोट उतारे थे. इसके बाद 100, 200, 50, 20 और 10 रुपये के भी नोट भी बाजार में आए. 100 रुपये के असली नए नोट की पहचान करने का पहला तरीका यह है कि असली नोट पर सामने वाले दोनों हिस्से पर देवनागरी में 100 लिखा है. वहीं नोट के बीच में महात्मा गांधी की फोटो लगी है. साथ ही 100 रुपये के असली नोट पर RBI, भारत, INDIA और 100 छोटे अक्षरों में लिखा है.

100 रुपये के नए वाले नोट को जब आप मोड़ेंगे तो इसपर लगे तार का रंग बदलेगा. यह हरे नीले रंग का हो जाएगा. इसके अलावा नोट पर 100 का वॉटरमार्क भी है. नोट के पीछे छपाई का वर्ष, स्वच्छ भारत का लोगो और स्लोगन, भाषा पैनल, 'रानी की वाव' का च‍ित्र और देवनागरी में मूल्यवर्ग अंक 100 लिखा है. 

100 रुपये के पुराने वाले नोट पर सामने की तरफ त्रिभुज की आकृति बनी होती है, जिसे आप छूकर आसानी से 100 रुपये की नोट की पहचान कर सकते हैं. इसके अलावा इस नोट पर पीछे की तरफ फूल बना होता है जिसे दूर से देखने पर उसमें पूरा 100 दिखाई देता है.

इसके अलावा 100 रुपये की पहचान के लिए सीधे हाथ की तरफ अशोक स्तंभ का प्रतीक है और महात्मा गांधी का चित्र, इलेक्ट्रोटाइप (100) वॉटरमार्क में नजर आएगा.