home page

Aadhaar Card में इतनी बार करा सकते हैं नाम, पता और जन्मतिथि को अपडेट, आप भी जान लें

Aadhaar Card : आधार कार्ड एक ऐसा डॉक्यूमेंट हैं, जिसकी ज़रूरत आज के समय में लगभग हर एक काम के लिए पड़ती रहती है। चाहे सिम कार्ड लेना हो, बैंक में अकाउंट खुलवाना हो, लोन लेना हो, राशन कार्ड बनवाना हो  या फिर पीएफ के पैसे निकालने हो... तरह के किसी भी काम के लिए आधार कार्ड अनिवार्य हो गया है,ऐसे में क्या आप जानते है की Aadhaar Card में कितनी बार करा सकते हैं नाम, पता और जन्मतिथि को अपडेट, आइए खबर में जानते है इससे जुड़ी पूरी जानकारी।
 | 

HR Breaking News, Digital Desk - आधार कार्ड (Aadhaar Card Latest Updates) आने के बाद विभिन्न सरकारी कामकाजों में पारदर्शिता आई है। आज के समय आधार कार्ड (How We Update Aadhaar Card) की सहायता से कई सरकारी योजनाओं की सब्सिडी के पैसे सीधे लाभार्थी के बैंक खाते तक पहुंच रहे हैं। किसी सरकारी योजना का लाभ लेना हो या बच्चों का स्कूल में एडमिशन कराना हो कई जगहों पर आधार कार्ड की खास जरूरत हम लोगों को होती है। इस कारण आधार कार्ड काफी उपयोगी दस्तावेज है।

अक्सर देखने को मिलता है कि आधार कार्ड बनवाने (Process of making Aadhar Card) के बाद उसमें किसी प्रकार की गलती हो जाती है। वहीं आप अपने नजदीकी आधार सेवा केंद्र (Aadhar Seva Kendra) पर जाकार आधार कार्ड में दर्ज नाम, पता और जन्मतिथि आदि से जुड़ी गलतियों को ठीक करा सकते हैं। हालांकि, इन गलतियों को ठीक कराने की लिमिट तय की गई है। इसी कड़ी में आइए जानते हैं आप अपने आधार कार्ड में दर्ज नाम, पते और जन्मतिथि को कितनी बार अपडेट (How We Update Aadhaar Card) करा सकते हैं?


अगर आधार कार्ड में आपका नाम गलत दर्ज हो गया है। इस स्थिति में आप अपने नाम को केवल दो बार अपडेट करा सकते हैं। वहीं आप अपनी जन्मतिथि को केवल एक बार ही बदलवा सकते हैं। 
आधार कार्ड में आप अपने एड्रेस को कितनी बार भी बदलवा सकते हैं। इसको लेकर किसी प्रकार की लिमिट तय नहीं की गई है। इसके अलावा आप आधार कार्ड में जेंडर को केवल एक बार ही अपडेट करा सकते हैं। 


अगर आप अपने नाम, पते और जन्मतिथि को लिमिट से ज्यादा बार अपडेट कराना चाहते हैं तो इसके लिए आपको आधार के क्षेत्रीय कार्यालय में जाना होगा। 


आधार कार्ड एक खास तरह का दस्तावेज है, जो कि आपकी पहचान को सत्यापित करने का काम करता है। इस कार्ड को भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण यानी यूआईडीएआई द्वारा जारी किया जाता है। इसमें व्यक्ति की बायोमेट्रिक और डेमोग्राफिक डिटेल्स शामिल होती हैं।