home page

Success Story : शुरूआत में 5 बिजनेस फेल, बैंक ने भी नहीं दिया था लोन, फिर ऐसे खड़ी की 11000 करोड़ की कंपनी

Success Story : अगर इंसान मन में में कुछ करने की ठान लें तो वह बड़ी से बड़ी कामयाबी हासिल कर सकता है। ऐसा शख्स असफलताओं को पार कर कामयाबी की बुलंदियों को छू सकता है। शुरूआत में पांच बिजनेस फेल, और फिर ऐसे खड़ी कर दी 11000 करोड़ की कंपनी। 

 | 
Success Story : शुरूआत में 5 बिजनेस फेल, बैंक ने भी नहीं दिया था लोन, फिर ऐसे खड़ी की 11000 करोड़ की कंपनी

HR Breaking News, Digital Desk- अगर इंसान में कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो वह बड़ी से बड़ी कामयाबी हासिल कर सकता है। ऐसा शख्स असफलताओं को पार कर कामयाबी की बुलंदियों को छू सकता है। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है, बोट (boAt) कंपनी के को-फाउंडर अमन गुप्ता ने। सीए और एमबीए की पढ़ाई पूरी करने के बाद जीवन में कई बार असफल हुए। लेकिन अमन गुप्ता ने कभी हार नहीं मानी।

अमन गुप्ता ने साल 2016 में बोट की शुरुआत की। आज बोट भारत की टॉप लाइफस्टाइल कंपनियों में शुमार है। उनकी कंपनी का वैल्यूएशन 11 हजार करोड़ रुपये हो चुकी है। अमन गुप्ता (Aman Gupta) बचपन से ही बिजनेसमैन बनना चाहते थे। अमन का जीवन काफी रोमांचकारी रहा है। आज कंपनी के प्रोडक्ट्स बाजार में अपनी पहचान बना चुके हैं। इसके बनाए प्रोडक्ट मल्टीनेशनल कंपनियों के पसीने छुड़ा रहे हैं। आईए आपको बताते हैं अमन गुप्ता ने इतनी असफलताओं के बावजूद किस तरह जीवन में इतनी सफलता हासिल की।

मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ जन्म-

अमन का जन्म 1982 में दिल्ली में एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ था। उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक करने के बाद सीए की पढ़ाई की, उस समय वे सीए की परीक्षा पास करने वाले सबसे कम उम्र के सीए थे। इसके बाद कुछ कम्पनियों में नौकरी करने और एक बिज़नेस स्थापित करने के बाद वे एमबीए करने के लिए यूएसए चले गए।

अमन के पिता चाहते थे कि वे चार्टर्ड अकाउंटेंट बने, लेकिन उनका मन इस प्रोफेशन में जाने का बिल्‍कुल नहीं था। सीए करने के बाद अमन ने सिटी बैंक में सहायक प्रबंधक के रूप में काम किया। इसके बाद उन्होंने एडवांस्ड टेलीमीडिया प्राइवेट लिमिटेड की सह-स्थापना की और 2005 से मार्च 2010 तक बतौर इसके सीईओ के रूप में कार्य किया।

कई स्टार्टअप हुए बंद-

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमन गुप्ता ने बोट को शुरू करने से पहले एक के बाद एक पांच कंपनियां शुरू की थीं। लेकिन कोई भी नहीं चलती थी। सभी पर ताला लग गया। अमन गुप्ता के मुताबिक, एक समय ऐसा भी था जब उन्हें बैंक ने लोन देने से भी मना कर दिया था। इसके बावजूद अमन ने हार नहीं मानी, उनमें कुछ कर गुजरने का जोश था। अमन ने समीर मेहता के साथ मिलकर 2016 में boAt कंपनी की शुरुआत की थी।

अमन अभी बोट के सीएमओ के रूप में कार्य कर रहे हैं। समीर मेहता और अमन गुप्ता ने बोट की सह-स्थापना की है। बोट आज भारत की एक लीडिंग कंपनी है जो फैशनेबल ऑडियो प्रोडक्ट का कारोबार करती है। पहले दो वर्षों के लिए कंपनी ने इयरफ़ोन, हेडफ़ोन, स्पीकर, ट्रैवल चार्जर बेचे। यह कंपनी तेजी से भारत के युवाओं के बीच अपनी जगह बना रहीं है।