home page

success story : भारत का सबसे अमीर सुनार, स्कूल ड्रॉपआउट ये बिजनेसमैन, 350 अरब रुपये की कंपनी का है मालिक

success story : जॉय अलुकास के 3 और भाई हैं। बंटवारे के दौरान उन्हें यूएई में 3 आउटलेट मिले थे। वह आज भी यूएई में ही रहते हैं। वह कुछ महीनों के लिए हर साल भारत में अपने घर रहने आते हैं। जानिए पूरी कहानी...
 | 
success story : भारत का सबसे अमीर सुनार, स्कूल ड्रॉपआउट ये बिजनेसमैन, 350 अरब रुपये की कंपनी का है मालिक

HR Breaking News (नई दिल्ली)। व्यापार की दुनिया में कई सफलता की कहानियां ऐसी मिल जाएंगी जहां शख्स ने कॉलेज से ड्रॉपआउट करने के बाद खुद को बिजनेस की बुलंदियों तक पहुंचा दिया. Joyalukkas Group के चेयरमैन जॉय अलूकस इस मामले में एक कदम और आगे हैं. उन्होंने स्कूल में ही ड्रॉपआउट कर दिया था. वह फोर्ब्स द्वारा 2023 के लिए जारी रिच लिस्ट में वह भारत के 50वें सबसे अमीर आदमी हैं. इस लिहाज से वह भारत के सबसे अमीर ज्वेलर भी बन गए हैं. पिछले साल उनकी रैकिंग 69 थी.

जॉय अलुकस एक मल्टी नेशनल ज्वेलरी ग्रुप है. जॉय अलुकस का परिवार भी ज्वेलरी के बिजनेस में उनके पिता वर्गीज अलुकस ने केरल के त्रिशुर में 1956 में पहले स्टोर की शुरुआत की थी. उन्होंने उसी बिजनेस को आगे बढ़ाने का ठाना. उन्होंने 1987 में अबू धाबी में अलुकास ज्वेलरी का पहला विदेशी स्टोर खोला. बाद में उन्होंने खुद के नाम पर ज्वेलरी स्टोर्स की शुरूआत की और ऐसे जॉय अलुकस ज्वेलरी का जन्म हुआ.

अरबों की कंपनी:

आज कंपनी की वैल्यू 4.4 अरब डॉलर है. इसे भारतीय करेंसी में देखें तो यह 366 अरब डॉलर है. इस ब्रांड का 2022-23 में भारत में कुल कारोबार 14513 करोड़ रुपये रहा. वहीं, कंपनी का मुनाफा 899 करोड़ रुपये रहा. कंपनी का लक्ष्य है कि वह वित्त वर्ष 24 में 17500 करोड़ रुपये का रेवेन्यू जेनरेट करे और 1100 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाए. कंपनी के दुनियाभर में 160 शोरूम हैं. इनमें से 100 शोरूम भारत में हैं.

आगे की योजना:

जॉय अलुकास की योजना भारत में शोरूम की संख्या बढ़ाकर 130 करने की है. यह काम अगले 2 वित्त वर्ष में करने का लक्ष्य रखा गया है. इसके अलावा 2400 करोड़ रुपये की लागत से विदेश में 10 और आउटलेट खोलने की योजना है. आपको बता दें कि दुनिया का सबसे गोल्ड ज्वेलरी आउटलेट भी जॉय अलुकास का ही है जो चेन्नई में स्थित है.

9000 कर्मचारी:

कंपनी के 11 देश में मौजूद 160 शोरूम में 9000 से अधिक कर्मचारी हैं. इसके दुनियाभर में 1 करोड़ ग्राहक हैं. कंपनी 10 लाख एक्सक्लूजिव डिजाइन तैयार कर चुकी है. आपको बता दें कि जॉय अलुकास कुल 4 भाई हैं और बंटवारे में उन्हें यूएई में 3 शोरूम मिले थे. वह अब भी यूएई में ही रहते हैं. हालांकि, हर साल 5 महीने के लिए वह त्रिशूर स्थित अपने घर आते हैं.