home page

Success Story : किसी वक्त करते थे अखबार बांटने का काम, आज करोड़ों रुपयों के टर्नओवर वाली कंपनी के हैं मालिक

Success Story : आज हम आपको बताने जा रहे है एक ऐसे शख्स की सफलता की कहानी के बारे में जिसने कामयाबी हासिल करने के लिए किसी काम को छोटा नहीं समझा. उसने कई जगह रिजेक्ट होने के बाद सफाई कर्मचारी तक का काम किया और आज है करोड़ों की कंपनी के मालिक....

 | 
Success Story : किसी वक्त करते थे अखबार बांटने का काम, आज करोड़ों रुपयों के टर्नओवर वाली कंपनी के हैं मालिक

HR Breaking News, Digital Desk -  कहते हैं वर्तमान समय में की गई मेहनत से अपने भविष्य को बेहतर बनाया जा सकता है। अगर मौजूदा समय में किसी भी चीज के लिए कड़ी मेहनत की जाए तो सफलता जरूर मिलती है। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ के एक सामान्य परिवार मे जन्मे आमिर कुतुब (Aamir Qutub) ने। कभी सफाईकर्मी के रूप में एयरपोर्ट पर काम करने वाले आमिर कुतुब (Aamir Qutub Success Story) आज मल्टीनेशनल कंपनी (MNC) के मालिक हैं। आज उनके पास करोड़ों रुपयों का नेटवर्थ है। आमिर की कंपनी में 100 से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं। लेकिन एक वक़्त था जब उन्हें 300 से अधिक कंपनियों में नौकरी से रिजेक्शन मिले थे। उन्होंने अखबार बांटना शुरू किया, सफाईकर्मी के रूप में काम किया और आज उनके बिज़नेस का टर्नओवर दस करोड़ रुपये का है। आमिर कुतुब के जीवन से हम सभी काफी कुछ सीखा जा सकता है। आईए आपको बताते हैं कैसे उन्होंने अपनी जिंदगी में इतनी सफलता हासिल की है।


मुश्किलों से भरा था सफर

एक सामान्य परिवार में पैदा हुए आमिर कुतुब का जीवन चुनौतियों से भरा था। उन्होंने 12वीं के बाद अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में एडमिशन लिया। हालांकि, इंजीनियरिंग के दौरान भी उनका मन पढाई में नहीं लगता था। पढ़ाई पूरी करने के बाद वह दिल्ली में एक कंपनी में काम करने लगे, लेकिन वहां भी मन नहीं लगा। इन सबके बीच उन्हें बिजनेस करने का सपना याद आता रहा। इसके बाद नौकरी छोड़कर आमिर ने और वेबसाइट डिजाइन का काम बतौर फ्रीलांसर करना शुरू किया। आमिर के कुछ क्लाइंट ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका में भी थे। जिसके बाद वो स्टूडेंट्स वीजा अप्लाई करके ऑस्ट्रेलिया चले गए।

ऑस्ट्रेलिया पहुंच कर भी आमिर कुतुब के जीवन की चुनौतियां खत्म नहीं हुई थी। उन्होंने कई कंपनियों में नौकरी के लिए आवेदन दिये, लेकिन हर जगह से उन्हें निराशा ही हाथ लगी। उन्होंने तकरीबन 4 महीने में 170 से ज्यादा जगहों पर इंटरव्यू दिए लेकिन कहीं भी उनका सेलेक्शन नहीं हुआ।

ऐसे बदली किस्मत

आमिर के मुताबिक, उनकी अंग्रेजी अच्छी नहीं थी और बगैर किसी अनुभव के नौकरी खोजना बेहद मुश्किल था। तीन महीने की कोशिश के बाद आमिर को एयरपोर्ट पर क्लीनिंग का काम मिला। इस काम के लिए उन्हें 20 डॉलर प्रति घंटा मिलते थे। दिन का जॉब होने के कारण उन्हें पढ़ने का समय नहीं मिल पा रहा था। इसके बाद उन्होंने क्लीनिंग का काम छोड़ रात 3 बजे से सुबह 7 बजे तक घरों में अखबार डालने का काम करना शुरू किया। हालांकि, कॉलेज के आखिरी साल में उनकी किस्मत ने करवट बदली और उन्हें एक टेक्नोलॉजी कंपनी में इंटर्नशिप करने का अवसर मिला। केवल 15 दिन में कुतुब को ऑपरेशन मैनेजर के रूप में पदोन्नति दी गई।

इस तरह बने करोड़पति


रिपोर्ट के मुताबिक, कुतुब को 2 साल बाद कंपनी का इंटरिम जनरल मैनेजर नियुक्त किया गया। इस दौरान एक बार कुतुब की मुलाकात एक बिजनेसपर्सन से हुई। इस दौरान उनके दिमाग में एक ऐसी एप्लिकेशन बनाने का आइडिया आया जो कंपनियों को पैसा बचाने में मदद करे। इसी के बाद उन्होंने एंटरप्राइज मंकी की शुरुआत की। कुतुब ने केवल 2,000 डॉलर में यह काम शुरू किया था।
 

करोड़ों में है टर्नओवर


आमिर ने अपनी मेहनत से जीवन में सफलता के ऊंचे शिखर को छुआ है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आज चार देशों में उनकी कंपनी है और करीब 10 करोड़ रुपये का टर्नओवर है। आमिर की कंपनी में 100 परमानेंट कर्मचारी के साथ-साथ करीब 300 कॉन्ट्रेक्टर्स काम कर रहे हैं।