home page

Success Story: 27 साल के इस लड़के ने रचा इतिहास, 9,129 करोड़ रुपये की संपत्ति का बना मालिक

Success Story of Pearl Kapoor : भारत देश में एन्टरप्रिन्योरशीप लगातार बढ़ती जा रही है। आज के युवा किसी की नौकरी कर खुश नही है वे खुद का स्टार्टअप शुरू करना ज्यादा उचित समझाते है।  ऐसा ही काम कर दिखाया भारत के एक युवा पर्ल कपूर ने। इस युवा ने उद्योग जगत के इतिहास में भारत के सबसे कम उम्र के अरबपति के रूप में अपना नाम दर्ज कराया है। आइए जान लेते है इनकी पूरी कहानी।

 | 
Success Story:  27 साल के इस लड़के ने रचा इतिहास, 9,129 करोड़ रुपये की संपत्ति का बना मालिक

HR Breaking News (ब्यूरो) : हमारे भारत देश में अरबपति एन्टरप्रिन्योरस (Billionaire Entrepreneurs) की कमी नहीं है और इनकी संख्या भी तेजी से बढ़ती जा रही है. खास बात है कि देश में यंग एन्टरप्रिन्योर तेजी से बढ़ रहे हैं. इसी कड़ी में 27 साल के एक लड़के ने इतिहास रच दिया. पर्ल कपूर, इस युवा का नाम शायद ही आपने पहले सुना (Success story) होगा.

Zyber 365 के फाउंडर, पर्ल कपूर एक यंग एन्टरप्रिन्योर (Young Entrepreneur) हैं. जिन्होंने विदेश में रहकर भारत के सबसे युवा अरबपति का मकाम हासिल किया. इस युवा ने उद्योग जगत के इतिहास में भारत के सबसे कम उम्र के अरबपति के रूप में अपना नाम दर्ज कराया है. अब हर व्यक्ति यह जानना चाहता है कि आखिर इस युवा ने यह मकाम कैसे हासिल किया, उनकी नेटवर्थ क्या है तो आइए बताते है इस युवा उद्यमी की सक्सेस स्टोरी.

आखिर कौन हैं पर्ल कपूर?


Zyber 365 के फाउंडर, पर्ल कपूर एक युवा उद्यमी (Pearl Kapoor a young entrepreneur) हैं. अपने स्टार्टअप से मिली जबरदस्त बिजनेस सक्सेस के कारण उन्होंने देश के सबसे युवा अरबपति का मकाम हासिल किया. Zyber 365 एक वेब और एआई-बेस्ड ओएस स्टार्ट-अप है, जो प्रतिष्ठित यूनिकॉर्न का दर्जा हासिल कर चुका है. पर्ल कपूर की कुल संपत्ति 1.1 अरब डॉलर (9,129 करोड़ रुपये) है. उनके पास कंपनी के 90% शेयर हैं.


इन कंपनियों में पहले किया था काम


आपको बता दें कि पर्ल कपूर (Pearl Kapoor) ने लंदन की क्वीन मैरी यूनिवर्सिटी से इन्वेस्टमेंट बैंकिंग में ग्रेजुएशन किया. कपूर को वेब3 प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक प्रर्वतक के रूप में पहचाना जाता है. Zyber 365 को शुरू करने से पहले, पर्ल कपूर ने फाइनेंशियल एडवाइजर और एंटियर सॉल्यूशंस के लिए बिजनेस एडवाइजर के तौर पर काम किया.

आखिर में हम आपको ये बताएंगे कि पर्ल कपूर, ब्लॉकचेन, एआई और साइबर सिक्योरिटी जैसी टेक्नोलॉजी का कंवर्जेंस (convergence of technology) चाहते हैं यानी इन तकनीकों को मिलाकर एक ऐसा समाधान तैयार करता है जो जनता को और सशक्त बनाए.