home page

Rajasthan की ये दबंग महिला अफसर बनी CISF की पहली महिला DG

Rajasthan - राजस्थान के पुलिस महकमे के लिए बड़ी खुशखबरी है। दरसअल आपको बता दें कि राजस्थान कैडर की सीनियर IPS ऑफिसर नीना सिंह केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) की DG बनीं हैं। आइए नीचे खबर में जानते है इनके बारे में विस्तार से। 
 | 
Rajasthan की ये दबंग महिला अफसर बनी CISF की पहली महिला DG

HR Breaking News, Digital Desk- राजस्थान के पुलिस महकमे के लिए बड़ी खुशखबरी है। राजस्थान कैडर की सीनियर IPS ऑफिसर नीना सिंह केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) की DG बनीं हैं। नीना सिंह इस पद तक पहुंचने वाली पहली महिला अधिकारी हैं। इससे पहले नीना सिंह राजस्थान के कई बड़े पदों पर रह चुकी हैं।

DG बनने से पहले नीना सिंह CISF की एडिशनल डायरेक्टर जनरल यानी ADG थीं। अब वे केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल की पूरी कमान संभालेंगी। नीना सिंह तेज तर्रार आईपीएस के रूप में जानी जाती हैं। उनके काम के लिए साल 2005 में उन्हें पुलिस पदक से सम्मानित किया गया था।

बिहार की बेटी, राजस्थान की ऑफिसर-

नीना सिंह मूलरूप से बिहार की राजधानी पटना की रहने वाली हैं। साथ ही राजस्थान कैडर की आईपीएस ऑफिसर हैं। नीना सिंह हाईली क्वालिफाइड हैं। उन्होंने अमेरिका की हावर्ड यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है। नीना सिंह के पति रोहित कुमार सिंह भी राजस्थान कैडर के आईएएस ऑफिसर हैं।

1989 बैच की आईपीएस अधिकारी-

नीना सिंह राजस्थान पुलिस महकमें की सीनियर अधिकारी हैं। 1989 बैच की आईपीएस अधिकारी राजस्थान कैडर से जुड़ी हुई हैं। वर्तमान में सिंह केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल यानी CISF की एडीजी की जिम्मेदारी संभाल रही थीं। वो राजस्थान पुलिस में डीजी पद पाने वाली पहली महिला ऑफिसर हैं। इसके पहले वो केंद्र सरकार में भी अपनी सेवाएं दे चुकी हैं।

PNB घोटाले और नीरव मोदी मामलों की जांच में रही शामिल-

बता दें कि नीना सिंह कई बड़े केसेज का हिस्सा रह चुकी हैं। आईपीएस नीना सिंह ने केंद्रीय जांच ब्यूरो यानी CBI में भी काम किया है, यहां वे संयुक्त निदेशक के रूप में कार्यरत थीं। सीबीआई में रहते हुए उन्होंने भ्रष्टाचार, आर्थिक अपराधों, बैंक फ्रॉड और खेल अखंडता से संबंधित कई हाई-प्रोफाइल केसों को संभाला है। इन सभी केसेज की जांच का हिस्सा रही हैं। रिपोटर्स के अनुसार पीएनबी घोटाला और नीरव मोदी सहित महत्वपूर्ण मामलों की जांच का भी हिस्सा रही हैं।

कड़क ऑफिसर के साथ लेखिका भी​-

एडमिनिस्ट्रेशन में अपनी खास भूमिका निभाने वाली नीना सिंह का लेखन में भी खास रूझान रहा है। उन्होंने अर्थशास्त्र में नोबल पुरस्कार विजेताओं, अभिजीत बनर्जी और एस्थर डुफ्लो के साथ शोध पत्रों का सह-लेखन भी किया है। इसके अलावा राजस्थान राज्य महिला आयोग की सदस्य-सचिव भी रह चुकी हैं। कोरोना महामारी के दौरान सिंह, राजस्थान में प्रमुख शासन सचिव (स्वास्थ्य) की जिम्मेदारी संभाल चुकी हैं।