home page

Liquor : 90 प्रतिशत लोग नहीं जानते, 5 पेग पीने के बाद होते हैं ये नुकसान

Side effects of Beer & Whisky: शराब का सेवन सेहत की लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है, यह लगभग सभी को पता होता हैं। लेकिन फिर भी शादी-पार्टी में लोग थोड़ा बहुत सेवन (alcohol drinking habits) करने को बुरा नहीं मानते है। लें आपको बता दें, ऐसा सोचना बिलकुल गलत है। क्योंकि शराब की एक घूंट भी पूरे शरीर को खराब कर सकती है, आइए खबर में विस्तार से जानते है 5 पेग (5 peg side effects) के नुकसान जो ज्यादातर लोगों को नहीं पता-

 | 
Liquor : 90 प्रतिशत लोग नहीं जानते, 5 पेग पीने के बाद होते हैं ये नुकसान

HR Breaking News (ब्यूरो)। 5 दिन जमकर काम और दो 2 दिन फुल एंजॉय' यह ट्रेंड इन दिनों मेट्रो सिटीज में तेजी से फेमस हो रहा है। खासतौर से युवा इसे कुछ ज्यादा ही पसंद कर रहे हैं। उनकी वीकेंड पार्टी (Beer side effects) में यूं तो खाने-पीने से लेकर डांस और मस्ती तक सब कुछ शामिल होता है। लेकिन इसमें एक चीज जो सबसे ज्यादा पसंद की जाती है, वह है हार्ड ड्रिंक। लेकिन इससे शरीर को कई तरह से नुकसान पहुंचता है।

 

शराब का सेवन रोजमर्रा की जीवन में एंजॉयमेंट (Beer & Whisky) के लिए करना आपको आज खुशी दे सकता है, लेकिन ये आपकी सेहत पर गंभीर असर भी डाल सकता है। हम आपको बता रहे हैं कि दैनिक जीवन में शराब आपकी सेहत को कैसे नुकसान पहुंचा सकती है।

 

ATM से पैसे निकलाने वालों के लिए अलर्ट, जान लें RBI के नियम

 

फैटी लिवर की समस्या

शराब का सेवन आपके लिवर को नुकसान पहुंचा सकता है। शराब पीने से लिवर पर पड़ने वाले असर पर बात करते हुए मैरिंगो एशिया (Side effects of drinking beer) हॉस्पिटल्स में डायरेक्टर-लिवर ट्रांसप्लांट डॉ. पुनीत सिंगला कहते हैं कि शराब पीने से लिवर के अंदर फैट जमा हो सकता है जिसे फैटी लिवर (liver causes fatty liver) कहा जाता है। अगर फैटी लिवर की समस्या बनी रहती है, तो लिवर के अंदर सूजन आ जाती है।

 

सीनियर सिटीजंस की हो गई मौज, 2 से 3 साल की FD पर मिलेगा बंपर ब्याज



सूजन बने रहने के कारण यह फाइब्रोसिस या सिरोसिस का रूप ले सकता है। ओपीडी में महीने में लगभग 100 मरीज शराब पीने के कारण लिवर की खराबी (liver damage reason) के साथ आते हैं। इनमें से लगभग 10 प्रतिशत मरीजों में लिवर फेलियर का पता चलता है और उन्हें लिवर ट्रांसप्लांट की जरूरत पड़ती है। ज्यादातर मरीज 25-50 की उम्र के होते हैं।

लिवर फेलियर के लक्षण

शुरुआत में लिवर खराब होने के लक्षण ज्यादा नहीं दिखाई देते हैं। सिर्फ अल्ट्रासाउंड में फैटी लिवर या लिवर टेस्ट (liver swelling reasons) में सूजन का पता चलता है। अगर लिवर फेलियर हो जाता है तो पीलिया, पैरों में सूजन, पेट में पानी, दिमाग पर असर, गफलत, मसल्स कम होना आदि तकलीफ हो सकती हैं।

High Court Decision: पत्नी इस स्थिति में पति से नहीं मांग सकती भरण पोषण की राशि, हाईकोर्ट ने दिया बड़ा फैसला



लंबे समय तक इसका सेवन आपके लिवर को खराब कर सकता है। अगर मोटापा है, व्यायाम नहीं करते और शराब का सेवन, तीनों एक साथ हैं तो लिवर के जल्दी डैमेज होने का खतरा बढ़ जाता है।

​पांच पैग के नुकसान

नेशनल इंस्टिट्यूट ऑन अल्कोहल एब्यूज के मुताबिक, पांच व उससे ज्यादा पैग पीने से ब्लड अल्कोहल 0.09 फीसदी बढ़ जाता है। वहीं शुगर लेवल भी तकरीबन 2 फीसदी तक बढ़ जाता है। जब शराब का असर खत्म होता है, तब शुगर लेवल गिर जाता है और कई बार हाइपोग्लाइसीमिया की कंडीशन पैदा हो जाती है। इसे लो ब्लड शुगर भी कहा जाता है।

Delhi-NCR में बनेगा नया एक्सप्रेसवे, अब नोएडा एयरपोर्ट जाना होगा आसान, 2500 करोड़ की आएगी लागत

इम्यून सिस्टम होता है कमजोर

इसका असर आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता पर भी होता है। फीजिशियन संजय महाजन कहते हैं कि शराब का अत्यधिक सेवन शरीर के लिए हमेशा से हानिकारक रहा है, लेकिन शराब से सिर्फ लिवर या पेट (whisky side effects) से जुड़ी बीमारियां ही नहीं होती, बल्कि इससे गठिया और मोटापा भी हो सकता है।

एल्कोहल के ज्यादा सेवन से शरीर में ऑक्सिजन ले जाने वाली लाल रक्त कोशिकाएं कम हो जाती हैं। ऐसे में थकान, सांस की तकलीफ और सिर दर्द जैसी समस्याएं होने लगती हैं।

ATM से पैसे निकलाने वालों के लिए अलर्ट, जान लें RBI के नियम

साइड इफेक्ट को कम करती हैं ये चीजें

नींबू, संतरें, अनानास आदि विटामिन सी के अच्छे स्रोत हैं। विटामिन सी एक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करता है। एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालते हैं। इसलिए खाने में सिट्रिक फलों की मात्रा बढ़ानी चाहिए।

शराब पीने से सबसे ज्यादा नुकसान लिवर को होता है। इसकी वजह से कई बार तो लिवर में कैंसर तक होने की शिकायत सामने (safe drinking habits) आती है। ऐसे में हल्दी का सेवन आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। हल्दी में मौजूद तत्वों से कैंसर के प्रभाव को कम किया जा सकता है। सेब में पेक्टिन और दूसरे कैमिकल होते हैं जो शरीर को डिटॉक्स करने का काम कर करते हैं। साथ ही सेब पाचन में भी मदद करता है।

High Court Decision: पत्नी इस स्थिति में पति से नहीं मांग सकती भरण पोषण की राशि, हाईकोर्ट ने दिया बड़ा फैसला

इन बातों का जरूर रखें ध्यान

  1. शराब के सेवन से बचें।

  2. रोजाना नियमित रूप से 30-40 मिनट तक व्यायाम करें।

  3. वजन कंट्रोल में रखें।

  4. साल में एक बार लिवर का चेकअप जरूर कराएं।

  5. लिवर को हेल्दी रखने वाला फूड खाएं।