home page

Ice in liquor : शराब में क्यों नही डूबता बर्फ का टुकड़ा, जानिए क्या है इसका विज्ञान

liquor with ice : शराब पीना सेहत के लिए हानिकारक होता है लेकिन फिर भी इससे पीने वालों की संख्या हर रोज बढ़ती ही जा रही है। आपने अगर ध्यान दिया होगा तो आपको पता होगा कि बर्फ को अगर पानी में डाल दिया जाए तो वो तैरने लगती है. लेकिन जैसे ही उसे शराब में डाला जाता है वो डूब जाती है. चलिए जानते हैं ऐसा क्यों होता है?
 | 
Ice in liquor : शराब में क्यों नही डूबता बर्फ का टुकड़ा, जानिए क्या है इसका विज्ञान

HR Breaking News, Digital Desk - बर्फ के टुकड़े (Pieces of ice) तो पानी में तैरते रहते हैं, लेकिन शराब से भरे गिलास में डूब जाते हैं। कभी सोचा है कि ऐसा होता क्‍यों है। इसके पीछे भी एक विज्ञान है जिसके कारण बर्फ अल्‍कोहल में डालने (ice in alcohol) पर डूब जाती है और पानी में तैरती रहती है। जानिए ऐसा होता क्‍यों है?


इसका जवाब भौतिक विज्ञान से मिलता है। बर्फ के टुकड़े पानी में तैरने और शराब में डूबने की वजह है घनत्‍व। विज्ञान कहता है कि किसी भी लि‍क्विड में वही चीज डूबती है जो जिसका घनत्‍व उस लि‍क्विड से ज्‍यादा होता है। यही नियम पानी, शराब और बर्फ के मामले (water, wine and ice)में भी लागू होता है।


इसे ऐसे समझें। अल्‍कोहल का घनत्‍व 0.789 प्रति घन सेंटीमीटर और पानी का घनत्‍व 1.0 प्रति घन सेंटीमीटर होता है। वहीं बर्फ का घनत्‍व 0.917 घन सेंटीमीटर है। यानी बर्फ का घनत्‍व पानी से कम है, इसलिए यह तैरती रहती है। उसी तरह अल्‍कोहल का घनत्‍व बर्फ से ज्‍यादा होने के कारण बर्फ डूब जाती है।


घनत्‍व होता है क्‍या है, इसे भी समझ लीजिए। आसान भाषा में समझें तो घनत्‍व किसी भी पदार्थ के घनेपन की माप है। किसी भी पदार्थ के कण उसमें कितनी मजबूती से एक-दूसरे से जुड़े रहते हैं। यही खूबी बताती है कि उसका घनत्‍व कम होगा या अध‍िक। घनत्व की खोज महान वैज्ञानिक आर्किमिडीज ने की थी।


यह सवाल कई प्रतियोगी परीक्षाओं के इंटरव्‍यू में भी कैंंडिडेट्स से पूछा जा चुका है। इसलिए आसान से समझे जाने वाले इस सवाल का जवाब कैंडिडेट के पास जरूर होना चााहि‍ए।