home page

Wine Beer : रोजाना शराब पीने से हाते हैं ये 5 बड़े नुकसान, पीने वाले जरूर जान लें

Wine Beer : शराब का सेवन आज के समय में बेहद अधिक मात्रा में होने लगा हैं। और शराब पीने वालों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही हैं। लेकिन जो लोग हर दिन शराब का सेवन करते हैं। वो लोग शरीर में होने वाले इन 5 बड़े नुकसान के (Alchohol ke Side Effects) बारे में जान लें। क्योंकि अधिकतर लोग इससे अनजान हैं। जानिए विस्तार से...
 | 
Wine Beer : रोजाना शराब पीने से हाते हैं ये 5 बड़े नुकसान, पीनी वाले जरूर जान लें 

HR Breaking News, Digital Desk - Side Effects of Alchohol : ज्यादातर लोग किसी भी खास मौके जैसे नए साल की पार्टी, जन्मदिन, शादी आदि का जश्न मनाने के लिए शराब का सेवन करते हैं, लेकिन कुछ लोग शराब पिए बिना एक दिन भी नहीं रह पाते हैं। ऐसे लोगों को शराब पीने की बुरी लत लग जाती है। बेशक, आप ओकेजनली ड्रिंक करें या हर दिन, शरीर को किसी ना किसी रूप से एल्कोहल नुकसान पहुंचाता (Side Effects of Alchohol) ही है।

किसी भी तरह का नशा करना फिर चाहे शराब का सेवन हो, ड्रग्स हो या स्मोकिंग हो, ये सभी बुरी तरह से शारीरिक और मानसिक सेहत को नुकसान पहुंचाते हैं। यदि आपको भी एल्कोहल के सेवन की लत लगी हुई है, तो साइंस के अनुसार, इसके शरीर पर होने वाले इन 5 गंभीर नुकसानों को भी जरूर जान लें....

सीडीसी के अनुसार, महिलाओं को प्रतिदिन मॉडरेट एल्कोहल का सेवन (Side Effects of Consuming Alchohol) सिर्फ एक ड्रिंक और पुरुषों को दो ड्रिंक तक सीमित होना चाहिए। जो लोग प्रति सप्ताह (या अधिक) 8-15 ड्रिंक एल्कोहल का सेवन करते हैं, उन्हें हेवी ड्रिंकर्स माना जाता है और आपकी यह आदत कई गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं को जन्म दे सकती है। जानिए, अधिक शराब के सेवन से सेहत को क्या-क्या नुकसान (dangerous side effects of drinking alcohol in excess) हो सकते हैं-

1. अधिक शराब पीने से होता है हार्ट डिजीज:

जो लोग शराब का सेवन हर दिन करते हैं, उनमें हार्ट डिजीज होने की संभावना बहुत अधिक होती है। ऐसे एल्कोहल का सेवन नहीं करने वालों के साथ नहीं होता है। पुरुषों की तुलना में हर दिन शराब पीने वाली महिलाओं में हृदय रोग होने की संभावना अधिक होती है। जॉन हॉपकिंस मेडिसिन में प्रकाशित हुए एक आर्टिकल के अनुसार, हद से ज्यादा एल्कोहल के सेवन से हार्ट से संबंधित कई समस्याएं (Drinking too much Alchohol Side Effects) जैसे हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट फेलियर, स्ट्रोक की आशंका बहुत अधिक बढ़ जाती है।


इसके अलावा, नियमित रूप से शराब पीने से वजन भी बढ़ने की संभावना रहती है। वजन अधिक होना भी हृदय स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। शराब अतिरिक्त कैलोरी का स्रोत होता है, जो वजन बढ़ने का एक मुख्य कारण है।

2. एल्कोहल के सेवन से इंफर्टिलिटी की समस्या हो सकती है:

कई अध्ययन में यह कहा गया है कि प्रेग्नेंट महिलाओं को शराब पीना उनके साथ ही उनके गर्भ में पल रहे शिशु को भी नुकसान पहुंचा सकता है। इससे प्रीमैच्योर डिलीवरी (premature delivery), मिसकैरिज (miscarriage), फेटल एल्कोहल सिंड्रोम डिसऑर्डर (FASD) या फिर स्टिलबर्थ (stillbirth) यानी डिलीवर के समय मृत शिशु के जन्म होने की समस्या हो सकती है।

इतना ही नहीं, एक अध्ययन में 21-45 वर्ष की 6,120 महिलाओं को ऑब्जर्व किया गया। शोधकर्ताओं ने पाया कि जिन महिलाओं ने एक सप्ताह में कम से कम 14 एल्कोहलिक पेय पदार्थों का सेवन किया (जो हर दिन लगभग दो ड्रिंक हुए) उनमें इससे कम मात्रा में एल्कोहल लेने या बिल्कुल भी ना पीने वाली महिलाओं की तुलना में 18% कम गर्भ धारण करने (conceive) की संभावना थी।


3. एल्कोहल के सेवन से लिवर को होता है नुकसान:

यह कई अध्ययनों में भी सामने आया है और चिकित्सकों का भी कहना है कि शराब का सेवन सबसे ज्यादा लिवर को नुकसान (Side Effects of Alchohol in hindi) पहुंचाता है। यकृत (Liver) शरीर से हानिकारक और विषाक्त पदार्थों को तोड़ने और बाहर निकालने का काम करता है। हालांकि, नियमित रूप से अधिक मात्रा में शराब पीना लिवर की इन सभी महत्वपूर्ण प्रक्रियाओं को बाधित कर सकता है और यह लिवर की सूजन (liver inflammation) और लिवर रोग (liver disease) के जोखिम को भी बढ़ा सकता है। लिवर डिजीज होने से शरीर में टॉक्सिन और हानिकारक पदार्थ जमा होने लगते हैं, जिससे मौत भी हो सकती है।

4. बोलते समय शब्दों का अस्पष्ट उच्चारण:

अमेरिकन एडिक्शन सेंटर्स के अनुसार, जो लोग जरूरत से ज्यादा शराब पीते हैं, उन्हें डिसआथ्रिया (Dysarthria in Hindi) विकसित होने का खतरा होता है। यह शब्दों को बोलने (slurred speech) में होने वाली कठिनाई के लिए एक चिकित्सा शब्द है। बोलने में होने वाली यह समस्या कई स्थितियों के कारण हो सकता है, जैसे मस्तिष्क की चोट, ब्रेन ट्यूमर और स्ट्रोक। हालांकि, समय के साथ बहुत अधिक शराब पीने से मस्तिष्क को नुकसान होता है, जिससे डिसआथ्रिया (Dysarthria in Hindi) के स्थायी रूप से होने की संभावना बढ़ जाती है।

5. एल्कोहल अधिक लेने से ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा:

जो लोग अधिक एल्कोहल या नशीली चीजों का सेवन करते हैं, उनमें हड्डियों से संबंधित रोग ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) के होने की संभावना बढ़ जाती है। एक अध्ययन में शामिल कुछ लोगों को ऑब्जर्व करने पर पता चला कि जो लोग प्रत्येक दिन दो ड्रिंक या अधिक पीते थे, उनमें ऑस्टियोपोरोसिस होने की संभावना 1.63 गुना अधिक थी। ऐसा इसलिए, क्योंकि अधिक पीने से पोषक तत्व जैसे कैल्शियम और विटामिन डी का अवशोषण बाधित होता है। ये दोनों ही तत्व हड्डियों की सेहत के लिए महत्वपूर्ण हैं।

मूल बात यह है कि आपको किसी भी चीज़ का सेवन करना चाहिए, लेकिन सीमित मात्रा में, अधिक मात्रा में नहीं। इसी तरह अगर आप कभी-कभार और बहुत कम मात्रा में शराब का सेवन करते हैं तो आपको किसी भी तरह की शारीरिक समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। आपके शरीर के महत्वपूर्ण अंग भी ठीक से काम करेंगे और स्वस्थ रहेंगे।