home page

Wine Beer : एक महीना शराब नहीं पीने से शरीर में क्या होगा, रिसर्च में हुए चौकाने वाले खुलासे

अगर कोई शराब एक महीने के लिए छोड़ दे तो क्‍या होगा? उसके शरीर पर क्‍या असर होगा? एक रिसर्च में इस पर चौंकाने वाले खुलासे किए गए हैं. अजबगजब नॉलेज सीरीज में आज बात इसी की.आइए जानते है इसके बारे में विस्तार से.

 | 
Wine Beer : एक महीना शराब नहीं पीने से शरीर में क्या होगा, रिसर्च में हुए चौकाने वाले खुलासे

HR Breaking News (नई दिल्ली)। शराब पीना स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हान‍िकारक है, यह तो सबको पता है. फ‍िर भी बहुत सारे लोग नियमित तौर पर शराब का सेवन करते हैं. कुछ लोग छोड़ना चाहते तो इसल‍िए नहीं छोड़ पाते कि उन्‍हें डर लगा रहता है कि शरीर पर पता नहीं क्‍या असर होगा? कुछ रिसर्च में भी कहा गया है कि अचानक शराब छोड़ने पर कान, एंग्जाइटी, घबराहट, कंपकंपी, चिड़चिड़ापन, पसीना आना, नींद न आना जैसी दिक्‍कतें हो सकती हैं. लेकिन एक अहम सवाल है कि अगर कोई शराब एक महीने के लिए छोड़ दे तो क्‍या होगा? उसके शरीर पर क्‍या असर होगा? एक र‍िसर्च में इसे लेकर चौंकाने वाले दावे किए गए हैं.

ऑस्‍ट्रेल‍िया, ब्रिटेन समेत कई मुल्‍कों में अक्‍तूबर का महीना सोबर अक्‍तूबर (Sober October) के रूप में मनाया जाता है. लोग महीने भर के लिए शराब छोड़ते हैं और जो पैसा बचता है उसे लाइफ एजुकेशन ट्रस्‍ट को दान कर देते हैं ताकि गरीब लोगों की मदद की जा सके. लेकिन आप जानकर हैरान होंगे कि यह पहल कई लोगों की लाइफ बदल देती है. एक्‍सपर्ट के मुताबिक, सिर्फ एक महीने तक ही शराब छोड़ने से त्वचा स्वस्थ हो सकती है. वजन कम हो सकता है. बेहतर नींद आ सकती है और भविष्य में स्वास्थ्य समस्याओं का खतरा कम हो सकता है. यह आपको एक हैंगओवर से भी बचाता है.

तमाम सारी मुश्क‍िलों का समाधान


अब एक नई रिसर्च से पता चला है कि सिर्फ एक महीने तक शराब छोड़ना आपकी तमाम सारी मुश्क‍िलों का समाधान कर सकता है. पहले ही हफ्ते में आपको नींद में सुधार नजर आएगा. जल्‍दी नींद आएगी और सुबह समय से जागना आसान हो जाएगा. शराब छोड़ने के 2 सप्ताह बाद आपकी त्‍वचा चमकती नजर आएगी. क्‍योंकि शराब पीने से पेशाब ज्‍यादा आता है और यह स्‍क‍िन से पानी सोखकर पेशाब में बदल देती है. इसी वजह से स्‍क‍िन सूखने लगती है. हेल्थलाइन की रिसर्च के अनुसार, चार हफ्ते या उससे अधिक तक अगर आप शराब नहीं पीते हैं तो लीवर ठीक होने लगता है. हृदय रोग और कैंसर का खतरा भी काफी कम हो जाता है. जितना कम आप पीएंगे, उतना अधिक आप जोखिम कम करेंगे.

60 से अधिक बीमारियों का खतरा


डेली मेल से बात करते हुए ड्रिंकवेयर के सीईओ करेन टायरेल ने कहा, कुछ लोगों का मानना है कि शराब पीने से जल्‍दी नींद आती है, लेकिन यह आपके रैपिड आई मूवमेंट को बाध‍ित करता है, जिससे अगले दिन आपको थकान महसूस होती है. भले ही आप कितनी ही देर तक क्‍यों न सोएं. रैपिड आई मूवमेंट आधी रात में जागने की वजह बन सकता है. लंबे समय तक शराब पीने से स्‍क‍िन संक्रमण और कैंसर के खतरे का खतरा बढ़ा सकती है. यह इम्‍यून सिस्‍टम को कमजोर करता है. टायरेल ने कहा, यदि आपका वजन अधिक है और आप नियमित रूप से शराब पीते हैं, तो आपको पता चलेगा कि शराब छोड़ने के बाद आपका वजन काफी कम हो जाता है. एक बीयर में लगभग 154 कैलोरी होती है, जबकि 5-औंस गिलास वाइन में लगभग 123 कैलोरी होती है. वोदका, टकीला, जिन और रम जैसी हार्ड शराब की मात्रा आम तौर पर प्रति औंस 100 कैलोरी से कम होती है . हाल के शोध से पता चला है कि किसी भी मात्रा में शराब के सेवन से पीने वालों में 60 से अधिक बीमारियों का खतरा बढ़ सकता है.