home page

Wine Beer : व्हिस्की या बीयर... जानिये सरकार को किसमें होती है ज्यादा कमाई

बीयर की बिक्री 2022 के मुकाबले काफी कम हुई है. साल 2023 मई की रिपोर्ट बताती है कि पिछले साल के मुकाबले इस साल बीयर की बिक्री में 52 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है.आइए जानते है इसके बारे में विस्तार से.

 | 
Wine Beer : व्हिस्की या बीयर... जानिये सरकार को किसमें होती है ज्यादा कमाई

HR Breaking News (नई दिल्ली)।  भारत में शराब पीने वालों की संख्या किसी भी देश के मुकाबले कहीं ज्यादा है. लेकिन भारतीय लोग किस तरह की शराब सबसे ज्यादा पीते हैं इस पर जल्दी किसी का ध्यान नहीं जाता है. हालांकि, आपको टेंशन लेने की जरूरत नहीं है, क्योंकि आज हम इस आर्टिकल में इन्हीं आंकड़ों पर बात करेंगे, इसके साथ ही आपको ये भी बताएंगे कि भारत में खासतौर से इसकी राजधानी दिल्ली में लोग शराब ज्यादा पीते हैं या फिर बीयर.

क्या कहती है रिपोर्ट?


दिल्ली सरकार की ओर से एक्साइज डिपार्टमेंट यानी उत्पाद शुल्क विभाग ने 2023-2024 के पहली तिमाही की एक रिपोर्ट जारी की है. इस रिपोर्ट के अनुसार सरकार ने अल्कोहल पर लगाए टैक्स और वैट से लगभग 1700 करोड़ रुपये कमाए हैं. जबकि 2022-2023 की बात करें तो आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली सरकार ने 62 करोड़ रुपये की शराब बेच कर उस पर टैक्स और वैट लगा कर 6821 करोड़ रुपये कमाए. जबकि, 2021-2022 में दिल्ली सरकार ने 6762 करोड़ रुपये की कमाई की थी.

कितनी बिकी बीयर?


दिल्ली में बीयर की बिक्री 2022 के मुकाबले काफी कम हुई है. साल 2023 मई की रिपोर्ट बताती है कि पिछले साल के मुकाबले इस साल बीयर की बिक्री में 52 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है.  एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल दिल्ली सरकार लगभग 86 लाख लीटर बीयर बेचेगी. जबकि साल 2022 में दिल्ली सरकार ने कुल 173 लाख लीटर बीयर बेची थी.

कितनी बिकी व्हिस्की


दिल्ली में व्हिस्की कितनी बिकी इस पर तो लेटेस्ट आंकड़े नहीं हैं, लेकिन बीयर और व्हिस्की की बिक्री में मौसम का बड़ा रोल रहता है. जैसे वित्तवर्ष की पहली तिमाही, यानी जनवरी से मार्च तक के बीच व्हिस्की बीयर से ज्यादा बिकती है. लेकिन फिर अप्रैल से सितंबर या अक्टूबर तक बीयर ज्यादा बिकती है. क्योंकि इस समय उत्तर भारत में खासतौर से दिल्ली में गर्मी बहुत होती है, इसलिए लोग इस दौरान ठंडी बीयर पीना पसंद करते हैं. वहीं दोनों से होने वाली कमाई की बात करें तो ये भी मौसम के हिसाब से बदलती रहती है. लेकिन व्हिस्की के मुकाबले बीयर पर वैट और टैक्स कम लगाए जाते हैं, इसलिए व्हिस्की से सरकार को ज्यादा कमाई होती है इस पर कोई शक नहीं. हालांकि, कई बार बीयर इतनी ज्यादा क्वांटिटी में बिक जाती है कि कमाई के मामले में वो बीयर को भी पीछे छोड़ देती है.