home page

Oil Bhav त्योहारों पर आम आदमी की जेब नहीं होगी ढीली! तेल कीमतों में भारी गिरावट

oil ke taza bhav आम आदमी के लिए राहत भरी खबर सामने आ रही है। मंडी के अपडेट के अनुसार त्योहारों से पहले तेल कीमतों में भारी गिरावट होने के आसार नजर आ रहे है। जिससे त्योहारों के सीजन में आम आदमी को जेब ढीली नही करनी पड़ेगी। 
 
 | 
Oil Bhav त्योहारों पर आम आदमी की जेब नहीं होगी ढीली! तेल कीमतों में भारी गिरावट

HR Breaking News, डिजिटल डेस्क नई दिल्ली, Edible Oil Price Cut News: देश में खाने-पीने की चीजों पर बढ़ती महंगाई के बीच आम लोगों के लिए राहत भरी खबर है. त्योहार से पहले खाने के तेल की कीमत में बड़ी गिरावट हो सकती है. सरकार ने तेल कंपनियों को यह नोर्देश दिया है कि तेल की कीमत को तत्काल कम किया जाए. दरअसल, खाद्य तेल की कीमतों को लेकर कंपनियों के साथ खाद्य सचिव की बैठक में इस पर फैसला लिया गया है.

सरकार ने दिए निर्देश 
सरकार ने तेल कंपनियों को निर्देश दिये हैं कि अगले दो हफ्तों में कीमतों में 10 रुपये की कटौती करें. गौरतलब है कि खाद्य मंत्रालय ने बीते महीने में वैश्विक कीमतों में गिरावट के बीच खाना पकाने वाले तेल की खुदरा कीमतों में और कमी की संभावना पर चर्चा के लिए खाद्य तेल निर्माताओं और व्यापार निकायों की बैठक बुलाई थी. इस बैठक में कई मुद्दों पर बात हुई. आपको बता दें कि बीते मई महीने के बाद यह इस तरह की तीसरी बैठक थी.

 

उपभोक्ताओं को मिलना चाहिए लाभ 

दरअसल, पाम तेल के सबसे बड़े निर्यातक इंडोनेशिया की तरफ से शिपमेंट पर प्रतिबंध हटाने के बाद सूरजमुखी और सोया तेलों की आपूर्ति आसान हो गई है. इस वजह से वैश्विक खाद्य तेल की कीमतों में गिरावट देखी गई है. खाद्य मंत्रालय के सूत्रों ने एफई को बताया कि उद्योग को इसका लाभ उपभोक्ताओं को देना होगा. एक अधिकारी ने कहा, ‘खाद्य तेल की खुदरा कीमतों में अभी और कमी की गुंजाइश है.’ मालूम हो कि भारत अपनी वार्षिक खाद्य तेल खपत का 56 प्रतिशत आयात के माध्यम से पूरा करता है. हालांकि इससे पहले भी सरकार के निर्देश के बाद तेल कंपनियों ने कीमत में कटौती की थी.

 

बीते महीने खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग ने खाद्य तेल निर्माताओं और व्यापार संघों के साथ बैठक में वैश्विक कीमतों में नरमी को देखते हुए कंपनियों से कीमतों में कम से कम 15 रुपये प्रति लीटर की कमी करने को कहा था