home page

Property rate hike: एनसीआर के शहरों में तेजी से बढ़ रहे प्रॉपर्टी के रेट, ये 3 जगहें बनी हॉटस्पॉट

Property rates hike in Delhi-NCR: जब भी इन्वेस्टमेंट की बात आती है तो हाई रिटर्न के लिए लोग अक्सर प्रॉपर्टी में इन्वेस्टमेंट करना पसंद करते है।  लेकिन आजकल प्रॉपर्टी के दाम (investment tips) आसमान छू रहे है। आपको बता दें, एक रिपोर्ट बताती है कि दिल्‍ली-एनसीआर में प्रॉपर्टी के दामों में तेजी से बढ़ोत्‍तरी हो रही है। दरअसल, 2024 की पहली तिमाही की रिपोर्ट (property investment)में काफी चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। आइए इसे नीचे खबर में विस्तार से जानते है-

 | 
Property rate hike: एनसीआर के शहरों में तेजी से बढ़ रहे प्रॉपर्टी के रेट, ये 3 जगहें बनी हॉटस्पॉट

HR Breaking News (ब्यूरो)। दिल्ली एनसीआर में रियल एस्टेट के क्षेत्र में जबर्दस्‍त बढ़ोत्‍तरी देखी जा रही है।प्‍लॉट से लेकर फ्लैट की बढ़ती मांग, आपूर्ति और 2024 की पहली तिमाही में प्रॉपर्टी की (Delhi-NCR Property Rates) कीमतों में भारी तेजी देखी गई है। खासतौर पर गुरुग्राम में प्रॉपर्टी के दाम रॉकेट की स्‍पीड से बढ़ रहे हैं। हाल ही में हाउसिंग डॉट कॉम रिसर्च शेड्स की ओर से प्रकाशित की गई रियल इनसाइट रेजिडेंशियल Q1 रिपोर्ट 2024 ने इस बात का खुलासा किया है।

 

आश्चर्यजनक वृद्धि देखी गई 

 

हाउसिंग डॉट कॉम की रिसर्च बताती है कि 2024 की पहली तिमाही में, दिल्ली एनसीआर क्षेत्र ने आवासीय इकाइयों की नई आपूर्ति और बिक्री दोनों में उल्लेखनीय वृद्धि देखी है। इस दौरान रेजिडेंशिल इकाइयों (property rates in Delhi) की नई आपूर्ति Q1 2023 से साल-दर-साल 32% की आश्चर्यजनक वृद्धि के साथ प्रभावशाली 6,872 इकाइयों तक पहुंच गई है। वहीं सालाना आधार पर देखें तो इकाइयों की बिक्री में 164 फीसदी की आश्चर्यजनक वृद्धि (property rates Hike) देखी गई जो कुल 10,058 इकाई के आधार पर तय की गई है।

 

ATM से पैसे निकलाने वालों के लिए अलर्ट, जान लें RBI के नियम

 

 10 फीसदी की उल्लेखनीय वृद्धि 

रिपोर्ट के सबसे महत्वपूर्ण खुलासों में से एक है कि दिल्ली एनसीआर में 2024 की पहली तिमाही में प्रॉपर्टी की औसत कीमत 7,600 रुपये तक बढ़ गई, जो 2023 की पहली तिमाही से 10 फीसदी की उल्लेखनीय (Property rates in Noida)  वृद्धि को दर्शाती है। प्रॉपर्टी की कीमतों में यह वृद्धि इस क्षेत्र के लिए एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर साबित हो रही है जिसमें दिल्ली एनसीआर के रियल एस्टेट बाजार (Real Estate Market) के ग्रॉस टोटल वैल्यू (GTV) में उल्लेखनीय 11 फीसदी हिस्सेदारी है। ग्रॉस टोटल वैल्यू एक निश्चित अवधि के भीतर बिक्री लेनदेन की कुल राशि का प्रतिनिधित्व करता है, बाजार गतिविधि और आर्थिक जीवन शक्ति के एक महत्वपूर्ण संकेतक के रूप में कार्य करता है।

 

सीनियर सिटीजंस की हो गई मौज, 2 से 3 साल की FD पर मिलेगा बंपर ब्याज

 

रियल एस्टेट बाजारों को बढ़ावा

वहीं सिग्नेचर ग्लोबल लिमिटेड(Signature Global Limited)  के को-फाउंडर एंड जाइंट मैनेजिंग डायरेक्टर देवेंदर अग्रवाल का मानना है कि बड़े पैमाने पर पूरे एनसीआर में बुनियादी ढांचे के विकास और लॉजिस्टिक कनेक्टिविटी में सुधार भी यहां प्रॉपर्टी की कीमतों में बढ़ोत्‍तरी (property rates in Gurgaon) के लिए प्‍लस प्‍वॉइंट है। विशेष रूप से गुरुग्राम के बारे में बोलते हुए उन्‍होंने कहा कि इस शहर में एनसीआर के सभी शहरों से ज्‍यादा मांग में वृद्धि देखी गई है, साल-दर-साल वृद्धि के आंकड़े भारतीय घर खरीदार की बढ़ती क्रय शक्ति और नई महत्वाकांक्षाओं का प्रतिबिंब हैं।

High Court Decision: पत्नी इस स्थिति में पति से नहीं मांग सकती भरण पोषण की राशि, हाईकोर्ट ने दिया बड़ा फैसला

 इसका द्वारका एक्सप्रेसवे, न्यू गुरुग्राम (property rates near dwarka expressway )और गोल्फ कोर्स रोड में रियल एस्टेट बाजारों को बढ़ावा देने में भी व्यापक प्रभाव पड़ा है, जो इन क्षेत्रों में आवासीय रियल एस्टेट की मांग में उछाल से और अधिक स्पष्ट हो गया है।

दक्षिणी पेरिफेरल रोड (SPR) और एसपीआर के नजदीकी क्षेत्र जैसे 69, 71, 72, 75 और 76 के आसपास भी प्रॉपर्टी की कीमतें बढ़ने लगी हैं। और यही वजह है कि एसपीआर, द्वारका एक्‍सप्रेसवे और न्‍यू गुरुग्राम प्रॉपर्टी (new gurugram property rates) के नए हॉटस्‍पॉट बनकर उभर रहे हैं या उभर चुके हैं।

Delhi-NCR में बनेगा नया एक्सप्रेसवे, अब नोएडा एयरपोर्ट जाना होगा आसान, 2500 करोड़ की आएगी लागत

नए रियल्टी हॉट स्पॉट 

हाल ही के वर्षों में, एसपीआर ने अपने सर्वोत्तम कनेक्टिविटी पहलू और मिलेनियम सिटि में प्रमुख स्थिति के कारण गुड़गांव में नए रियल्टी हॉट स्पॉट के रूप में अपनी स्थिति और मजबूत कर ली है।

वही वोमेकी ग्रुप के फाउंडर एंड चेयरमैन गौरव के सिंह कहते हैं कि दिल्‍ली एनसीआर (property rates in UP) में नई आपूर्ति में साल-दर-साल 32 फीसदी की उल्लेखनीय वृद्धि और यूनिट बिक्री में 164 फीसदी की आश्चर्यजनक वृद्धि के साथ, संभावित भविष्य की प्रवृत्ति इस क्षेत्र में मजबूत मांग और निवेशकों के विश्वास को उजागर करती है।