home page

RBI Rule : एक व्यक्ति अधिकतम खुलवा सकता है इतने बैंक खाते, जान लें नियम

RBI Rules For Bank Account Opening : हम सब के बैंक में खाते होते है लेकिन ज्यादातर लोग यह नही जानते है कि एक व्यक्ति अधिकतम कितने बैंक अकाउंट खुलवा सकता है। आज इस खबर के माध्यम से हम आपको इस बारें में जानकारी देते हुए आरबीआई के इससे संबंधित नियमों के बारें में बताएंगे।

 | 
RBI Rule : एक व्यक्ति अधिकतम खुलवा सकता है इतने बैंक खाते, जान लें नियम

HR Breaking News (ब्यूरो) : आज के समय में लगभग हर एक व्यक्ति का बैंक में अपना खाता (Own bank account) होता है। कोई बैंक खाते के जरिए बचत करता है, तो कोई अपने रोज के खर्चों के लिए इसका इस्तेमाल करता है, जबकि कई लोग तो सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए बैंक खाता खुलवाते हैं आदि। यही नहीं, अब तो बच्चों के भी बैंक खाते खोले (Open bank accounts for children)  जाते हैं, जिसमें सरकारी स्कूल बच्चों को दी जाने वाली सहायता राशि को उनके बैंक खाते में जमा करवाता है। ऐसे में क्या आपने कभी सोचा है कि एक व्यक्ति कितने बैंक खाते खुलवा सकता है? क्या इसको लेकर भारतीय रिजर्व बैंक यानी आरबीआई का कोई नियम (RBI rules) है? जी हां, बिल्कुल है, तो चलिए जानते हैं आखिर ये नियम क्या कहता है। आप आगे इसके बारे में विस्तार से जान सकते हैं.


बैंक खातों के प्रकार-

जान लें कि बैंक खाते होते कितने प्रकार के  हैं-


-सेविंग खाता (saving account)
-करंट खाता (Current Account)
-सैलरी खाता (zero balance account)
-जॉइंट खाता (Joint account)

अगर हम बात करें कि लोग सबसे ज्यादा कौन सा खाता खुलवाते हैं या किस खाते का ज्यादा इस्तेमाल किया जाता हैं, तो इसमें सेविंग अकाउंट सबसे पहले नंबर पर आता है। आमतौर पर लोग इसे प्राइमरी खाते (Primary bank account) के रूप में इस्तेमाल करते हैं।


जानें किसके लिए है कौन सा खाता


अक्सर सेविंग खाते (Saving Bank Account) में लोग अपनी कमाई को जमा करते हैं और फिर इस पैसे पर बैंक की तरफ से ब्याज दिया जाता है। कोई बैंक हर महीने, कोई तीन, कोई छह महीने या सालाना ब्याज देता है। वहीं, दूसरी तरफ बिजनेस वाले लोग करंट अकाउंट और वेतन भोगी लोग सैलरी अकाउंट का इस्तेमाल करते हैं।


एक व्यक्ति इतने खुलवा सकता है बैंक खाते 


अगर RBI के नियम (RBI rules) की मानें तो भारत में कोई भी व्यक्ति कितने भी बैंक खाते (bank accounts) खुलवा सकता है। इसके लिए किसी प्रकार की कोई लिमिट तय नहीं की गई है। बस आपको यह जरूर ध्यान रखना है कि जितने भी बैंक खाते खुलवाते हैं, उसका आपको सुचारूरूप से संचालन कर घ्यान देना है। खाता खुलवाने के बाद जो लोग उन खातों पर ध्यान नहीं देते हैं, उनके खाते पर बैंक द्वारा चार्ज लगाए जाते हैं। ऐसी चीजों से बचने के लिए आपको अपने सभी बैंक खातों का ध्यान रखना चाहिए।