home page

Success Story : एक धोखे ने बदली दी पूरी जिंदगी, IAS बनकर बंद किया सबका मुंह

IAS Success Story : यूपीएससी की परीक्षा भारत की सबसे सर्वश्रेष्ठ एग्जाम में से एक एग्जाम है। लेकिन प्यार में धोखा इंसान को तोड़ देता है। आईएएस आदित्य पांडेय ने दूसरा ऑप्शन चुना. गर्लफ्रेंड से ब्रेकअप होने के बाद वह जी-जान से सिविल सर्विस की तैयारी में जुट गए। जानिए पूरी कहानी...
 | 
Success Story : एक धोखे ने बदली दी पूरी जिंदगी, IAS बनकर बंद किया सबका मुंह

HR Breaking News (नई दिल्ली)। 2017 में रिलीज हुई फिल्म ‘शादी में जरूर आना’ युवाओं के बीच काफी लोकप्रिय हुई थी. इसमें राजकुमार राव ने एक ऐसे लड़के (सत्तू) की भूमिका निभाई थी, जो शादी टूट जाने के बाद सिविल सर्विस परीक्षा पास कर सरकारी अफसर बन जाता है. हमारे आस-पास असल में भी ऐसे कई सत्तू मौजूद हैं (Real Life Story).

बिहार की राजधानी पटना के रहने वाले आदित्य पांडेय की कहानी काफी मोटिवेशनल है (IAS Motivational Story). उनका ब्रेकअप हुआ तो उन्होंने अपनी जिंदगी को बर्बाद करने के बजाय उसे नई दिशा दी. उन्होंने ठान लिया कि वह यूपीएससी परीक्षा पास कर सरकारी नौकरी हासिल कर ही दम लेंगे (Sarkari Naukri).. और उन्होंने ऐसा कर भी दिखाया.


10वीं में लिखी नई इबारत:

आदित्य पांडेय का जन्म बिहार के पटना के एक छोटे से गांव विशुनपुर पकरी में हुआ था. उन्होंने 12वीं तक की पढ़ाई केंद्रीय विद्यालय कंकड़बाग, पटना से की है. 8वीं और 9वीं में टॉप करने वाले आदित्य की 10वीं में गर्लफ्रेंड बन गई थी. उससे ब्रेकअप होने के बाद वह बहुत परेशान रहने लगे थे. फिर उन्होंने उस लड़की से कहा कि एक दिन वह आईएएस अफसर बनकर दिखाएंगे (IAS Officer).IIT से किया MBA

आदित्य पांडेय ने एलपीयू, पंजाब से इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन की डिग्री ली है. उनकी इंजीनियरिंग में बिल्कुल भी रुचि नहीं थी. इसलिए उन्होंने 2018 में आईआईटी रुड़की से एमबीए किया. फिर ICICI बैंक में नौकरी करके कॉरपोरेट क्षेत्र को समझा. 2019 में बैंक की नौकरी से इस्तीफा देने के बाद उन्होंने जनवरी 2020 से यूपीएससी परीक्षा की तैयारी शुरू की थी (Aaditya Pandey IAS Biography).


2.5 अंक से हुए फेल:

आदित्य ने UPSC परीक्षा के 3 अटेंप्ट दिए थे. उनका ऑप्शनल विषय दर्शनशास्त्र था (UPSC Optional Subject). यूपीएससी रिजल्ट 2021 में वह सिर्फ 2.5 अंकों से फेल हो गए थे. उन्होंने अगले अटेंप्ट के लिए खूब मेहनत की और यूपीएससी रिजल्ट 2022 में 48वीं रैंक के साथ IAS अफसर बन गए. एक बार उनके एक टीचर ने उनके पिता से कहा था कि अगर यह लड़का पढ़ लिया तो वह अपनी मूंछें मुंडवा लेंगे.