home page

Alcohol : बीयर पीने का भी होता है सही तरीका, इस गलती के कारण शरीर को हो जाता है बुरा हाल

Wine Beer : बीयर पीने वालों की संख्या हर रोज बढ़ती ही जा रही है, ज्यादातर लोग हर रोज इसका सेवन करते है, कई लोग इसका सेवन तो करते है लेकिन उन्हे इसे पीने के सही तरीके के बारे में नही पता होता है, आइए खबर में जानते है इससे जुड़ी पूरी जानकारी।

 | 
Alcohol : बीयर पीने का भी होता है सही तरीका, इस गलती के कारण शरीर को हो जाता है बुरा हाल

HR Breaking News, Digital Desk - इसमें कोई शक नहीं है कि बीयर शराब का सबसे लोकप्रिय विकल्प (most popular choice of alcohol) है। ज्यादातर लोग तनाव को कम करने और आराम करने के लिए एक लंबे और थका देने वाले दिन के बाद एक ठंडी बीयर की बोतल (cold beer bottle) का आनंद लेते हैं। केवल 5 से 12 प्रतिशत अल्कोहल के साथ बीयर को अन्य नशीले ड्रिंक्स (intoxicating drinks) की तुलना में कम हानिकारक माना जाता है।


कई अध्ययनों से पता चलता है कि बीयर पीने से उम्र बढ़ सकती है, दर्द कम हो सकता है और हृदय रोगों का खतरा कम हो सकता है। फिर भी हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि इसमें कुछ मात्रा में अल्कोहल होता है और इसका अत्यधिक और नियमित सेवन कई स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं (health concerns) के द्वार खोल सकता है। इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि अगर आप हर रात बीयर पीते हैं तो आपके शरीर का क्या हाल हो जाता है।
 

​शरीर में जमा होने लगता है फैट


दरअसल, बीयर में अल्कोहल की मात्रा (Alcohol content of beer) कम होती है और कैलोरी बहुत अधिक होती है। एक पिंट बियर में लगभग 150 कैलोरी होती है और अल्कोहल की मात्रा बढ़ने से कैलोरी की ज्यादा बढ़ जाती है। आम तौर पर लोग एक बार में एक से अधिक बोतल बीयर पीते हैं, जिससे कुल कैलोरी बहुत अधिक हो जाती है।


अल्कोहल में कैलोरी (calories in alcohol) आपको खाद्य पदार्थों से मिलने वाली कैलोरी से बहुत अलग होती है। इसकी कैलोरी शरीर के मध्य हिस्से में जमा होती है जिससे बियर बेली बनती है और हम सभी जानते हैं कि पेट में वसा का जमा होना सबसे खतरनाक है और इसे कम करना मुश्किल है।
 

​यह आपके दिल की सेहत के लिए खतरनाक भी हो सकता है


कई अध्ययन यह साबित करते हैं कि बीयर पीना हृदय स्वास्थ्य के लिए अच्छा है, लेकिन यदि आप सीमा से अधिक हो जाते हैं तो यह दूसरी तरफ जा सकता है। भारी शराब पीने से हृदय की मांसपेशियों को नुकसान हो सकता है, जिससे स्ट्रोक, उच्च रक्तचाप, टाइप-2 मधुमेह और दिल की अनियमित धड़कन का खतरा बढ़ जाता है। नियमित शराब पीने वालों की तुलना में साप्ताहिक भारी शराब पीने वालों (सप्ताह में दो बार) में जोखिम और भी अधिक है। यह रक्तचाप के स्तर में अचानक उतार-चढ़ाव के कारण होता है।
 

​किडनी खराब कर सकती है बीयर


पुरुषों के लिए प्रतिदिन दो पेय और महिलाओं के लिए एक पेय को मध्यम पेय माना जाता है। इस सीमा से आगे जाने पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकते हैं। शराब की मात्रा में अधिक बीयर पीने से आपको उच्च रक्तचाप और किडनी की बीमारियों का खतरा हो सकता है।


ऐसा इसलिए है क्योंकि बीयर मूत्रवर्धक (diuretic) है और आपकी किडनी पर अतिरिक्त दबाव डाल सकती है। यह डिहाइड्रेशन का कारण भी बन सकती है और शरीर को इंबैलेंस कर सकती है। लंबे समय में यह आपके गुर्दे को नुकसान पहुंचा सकता है जिससे किडनी स्टोन या किडनी फेलियर का जोखिम उठानाा पड़ सकता है।


​शरीर में पोषक तत्वों की कमी कर सकती है बीयर


नियमित बीयर का सेवन कुछ विटामिन और खनिजों के लिए शरीर की मांग को बढ़ा सकता है। जब इन मांगों को पूरा नहीं किया जाता है, तो यह आपके समग्र स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डालती है। अल्कोहल को मेटाबोलाइज करने के लिए हमारे शरीर को कुछ अतिरिक्त पोषक तत्वों की जरूरत होती है जैसे कुछ बी विटामिन।


हम डेली डाइट से पोषक तत्व आसानी से प्राप्त कर सकते हैं, लेकिन जरूरत से ज्यादा पोषक तत्वों को पूरा करने के लिए शरीर को उन्हें ऑब्जर्ब करने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। लंबे समय में, यह विटामिन की कमी (vitamin deficiency) का कारण बन सकता है और यहां तक कि शरीर के आंतरिक कार्य (internal functions of the body) को भी बाधित कर सकता है।


​अनिद्रा का शिकार बना सकती है बीयर


शराब और रात की अच्छी नींद का आपस में अच्छा मेल-जोल नहीं है। कुछ अध्ययनों से पता चला है कि बीयर पीने से एक व्यक्ति को जल्दी नींद आने में मदद मिल सकती है, लेकिन यह लंबे समय तक ऐसा नहीं होता। शाम को बीयर पीने से दिन के समय आप एकाग्रता के साथ काम नहीं कर पाते हैं, साथ ही आपको थकान भी महसूस होती है। ऐसे में शराब आपकी नींद और मूड दोनों को खराब करती है। कुछ लोग अत्यधिक शराब के सेवन (alcohol consumption) के कारण रात में अनिद्रा से भी पीड़ित होते हैं।