home page

wine beer : हफ्तें भर में कितने ML शराब पीनी चाहिए, पीने वालों को जरूर होना चाहिए पता

wine beer : शराब पीने के नुकसान को लेकर हमेशा से ही डॉक्टर्स आगाह करते रहे हैं। एक्सपर्ट का कहना है कि हमारा शरीर एक घंटे में सिर्फ एक ही ड्रिंक और दिन में कुल 3 ड्रिंक को पचा सकता है लेकिन एक से अधिक स्टैंडर्ड ड्रिंक पीना हमेशा खतरनाक माना जाता है।आइए जानते है इसके बारे में विस्तार से।
 | 
wine beer : हफ्तें भर में कितने ML शराब पीनी चाहिए, पीने वालों को जरूर होना चाहिए पता

HR Breaking News (नई दिल्ली)। जिस दिन से आप शराब पीना शुरू करते हैं, उसी दिन से उसके दुष्प्रभाव शरीर पर हावी होना शुरू कर देते हैं। शराब पीने वाले लोगों के शरीर पर कुछ असर तुरंत दिखने लगते हैं तो कुछ लॉन्ग टर्म के बाद दिखते हैं। 


कई लिमिट में शराब का सेवन (Consumption of alcohol in limit) करते हैं तो कुछ लोग इतनी शराब पी लेते हैं कि उन्हें होश ही नहीं रहता। हम शराब पीने की सलाह बिल्कुल नहीं दे रहे हैं लेकिन फिर भी अगर आपसे शराब छूट नहीं रही है तो कुछ बातों को ध्यान में रखकर कुछ हद तक शराब के शरीर पर होने वाले दुष्प्रभाव से बच सकता है। अगर आप भी शराब पीते हैं तो नीचे बताए हुए तरीकों पर जरूर ध्यान दें।
 

शराब कितनी मात्रा में पीनी चाहिए


दोस्तों के साथ एंजॉयमेंट करना हो या पार्टी हो, कई लोग अनलिमिटेड शराब पी लेते हैं, इसके बाद से उन्हें प्रॉब्लम्स होना शुरू हो जाती हैं। Healthdirect।gov।au के मुताबिक, वयस्कों को शराब के जोखिम से बचे रहने के लिए एक हफ्ते में 10 ड्रिंक से अधिक और एक दिन में चार ड्रिंक से अधिक नहीं पीनी चाहिए। एक स्टैन्डर्ड ड्रिंक का साइज 330 ml बीयर और 30 ml हार्ड अल्कोहल (व्हिस्की, जिन आदि) और 150 ml वाइन (रेड और व्हाइट) होता है। 


एक ड्रिंक में लगभग 10 ग्राम इथेनॉल (अल्कोहल) होता है। इस मात्रा को शरीर एक घंटे में प्रोसेस कर सकता है। इसलिए हमेशा तय की गई मात्रा से अधिक शराब  नहीं पीना चाहिए। अगर कोई दैनिक निर्धारित की गई शराब की मात्रा से अधिक पीता है तो उससे दुर्घटना, शारीरिक नुकसान या हैंगओवर हो सकता है। वहीं अगर कोई रोजाना बहुत अधिक शराब पीता है तो उसे हृदय, कैंसर, लिवर, किडनी या दिमाग संबंधित बीमारियां हो सकती हैं। 


पीने से पहले और पीने के दौरान कुछ खाएं


शराब आपके पेट और छोटी आंत के माध्यम से ब्लडस्ट्रीम में जाती है। जब आप शराब पीना शुरू करते हैं और अगर पेट खाली है तो शराब ब्लडस्ट्रीम में तेजी से जाएगी। ऐसा होने से शरीर को दुष्प्रभाव हो सकते हैं इसलिए पीने से पहले और पीने के दौरान कुछ ना कुछ जरूर खाएं। शराब पीने से पहले खूब सारा पानी पिएं, नमकीन स्नैक्स खाने से बचें। मखाने, ड्राईफ्रूट, सलाद, मूंगफली, पनीर शराब के साथ या पहले खा सकते हैं।


एक घंटे में पिएं 1 स्टैंडर्ड ड्रिंक 


खून में जो अल्कोहल की मात्रा होती है उसे बीएसी (Blood alcohol level) कहते हैं। खून में अल्कोहल की मात्रा इस बारे में बताती है कि शराब शरीर पर किस तरह से प्रभाव डालेगी। शरीर प्रति घंटे केवल 1 स्टैंडर्ड ड्रिंक को ही प्रोसेस कर सकता है। लेकिन अगर आप अधिक तेजी से शराब पिएंगे तो बीएसी उतना ही अधिक होगा और शरीर को अधिक नुकसान होगा। इसलिए कोशिश करें कि एक घंटे में एक स्टैंडर्ड ड्रिंक से अधिक का सेवन ना करें। 


शराब के दौरान शर्त लगाने से बचें


आपने देखा होगा कई लोग शराब पीते समय कुछ ना कुछ शर्त लगा लेते हैं। जैसे, एक बार में ही बोतल खत्म करना, पहले कौन बोतल खत्म करेगा या कौन अधिक शराब पी  सकता है, आदि। ऐसा करना शरीर के लिए काफी हानिकारक हो सकता है। इसलिए कभी भी शराब पीने के दौरान खेल, स्कोलिंग रेस या ऐसी किसी भी एक्टिविटी करने से बचें जिससे आप जल्दी से जल्दी अधिक शराब पिएं। अल्कोहल को एनर्जी ड्रिंक के साथ न मिलाएं क्योंकि इससे आप अधिक ड्रिंक कर सकते हैं। 


शराब पीकर गाड़ी न चलाएं


भारत में ब्लड अल्कोहल लेवल (BAC) प्रति 100 मिलीलीटर खून में 0।03 % से अधिक नहीं होना चाहिए। यानी कि प्रति 100 मिलीलीटर खून में 30 से अधिक अल्कोहल होता है तो वह व्यक्ति गाड़ी चलाकर कानून का उल्लंघन कर रहा है। लेकिन अगर आप गाड़ी चला रहे हैं तो हमारा मानना है कि शराब का कोई भी सुरक्षित लेवल नहीं है। आपने अगर थोड़ी सी भी शराब पी हुई है तो गाड़ी बिल्कुल ना चलाएं। अगर ऐसा करते हैं तो सड़क दुर्घटना होने की संभावना उतनी अधिक हो जाती है और दुर्घटना में आपके साथ अन्य लोगों को भी नुकसान हो सकता है। अगर आपको कहीं जाना है तो पहले ही घर जाने की व्यवस्था करें कि आप कैसे घर जाएंगे।